• Home
  • »
  • News
  • »
  • punjab
  • »
  • पंजाब में पावर कट पर संग्राम, बादल बोले कैप्टन सरकार नहीं बढ़ा पाई बिजली उत्पादन

पंजाब में पावर कट पर संग्राम, बादल बोले कैप्टन सरकार नहीं बढ़ा पाई बिजली उत्पादन

सुखबीर सिंह बादल ने बिजली के मुद्दे पर कैप्‍टन अमरिंदर सिंह को घेरा.  . (फाइल फोटो)

सुखबीर सिंह बादल ने बिजली के मुद्दे पर कैप्‍टन अमरिंदर सिंह को घेरा. . (फाइल फोटो)

शिरोमणि अकाली दल (Shiromani Akali Dal) के प्रमुख और फिरोजपुर के सांसद सुखबीर सिंह बादल (Sukhbir Singh Badal) ने भी पंजाब में पावर कट को लेकर कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) सरकार पर जमकर हमला बोला.

  • Share this:
    चंडीगढ़. पंजाब में बिजली कटौती को लेकर शिरोमणि अकाली दल (Shiromani Akali Dal) ने शुक्रवार को राज्य के विभिन्न स्थानों पर विरोध प्रदर्शन किया. कई घंटे के पावरकट का विरोध करते हुए पूर्व मंत्री दलजीत सिंह चीमा (Former minister Daljit Singh Cheema) के नेतृत्व में शिअद (SAD) कार्यकर्ताओं ने जहां रोपड़ में हाथ वाले पंखे बांटे, वहीं जीरकपुर में स्थानीय विधायक एनके शर्मा ने बलटाना में बिजली कटौती के खिलाफ स्थानीय लोगों के धरने का नेतृत्व किया. शिअद प्रमुख और फिरोजपुर के सांसद सुखबीर सिंह बादल (SAD chief and Ferozepur MP Sukhbir Singh Badal) ने भी लंबी विधानसभा क्षेत्र में पावर कट को लेकर कैप्टन सरकार की जमकर आलोचना की.

    शिअद प्रमुख और फिरोजपुर के सांसद सुखबीर सिंह बादल ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में कांग्रेस सरकार बिजली उत्पादन बढ़ाने में विफल रही है, जिसके परिणामस्वरूप लोगों को लंबे समय से अनिर्धारित बिजली कटौती का सामना करना पड़ रहा है. सुखबीर ने कहा कि हमारी सरकार के दौरान मैं हर सोमवार को बिजली विभाग की समीक्षा बैठकें करता था. इसके अलावा मुझे हर सुबह अपने सेलफोन पर राज्य में बिजली की आवश्यकता और उत्पादन क्षमता के बारे में एक संदेश मिलता था. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को राज्य में बिजली की चिंता ही नहीं है. समय बीतने के साथ बिजली की मांग बढ़ी है, लेकिन उन्होंने उत्पादन बढ़ाने के लिए कुछ नहीं किया है. कुछ बिजली संयंत्र अभी भी अपनी पूरी क्षमता से काम नहीं कर रहे हैं.

    इसे भी पढ़ें :- पंजाब बिजली संकट : उद्योगों पर 2 दिन का लॉकडाउन, सरकारी कार्यालयों का समय भी बदला

    उन्होंने कहा कि हाल ही में मैंने ब्यास में अवैध खनन पाया. हालांकि अमरिंदर ने मेरे खिलाफ मामला दर्ज किया. बादल ने कहा कि मैं उन्हें मुझे गिरफ्तार करने की चुनौती देता हूं. शिअद प्रमुख ने कहा कि वह फाजिल्का, जलालाबाद और जालंधर का दौरा करेंगे. बादल ने कहा कि मैं अगले छह महीने तब तक आराम नहीं करूंगा, जब तक कि कांग्रेस को सत्ता से बाहर नहीं कर दिया जाता.

    इसे भी पढ़ें :- पंजाब विधानसभा चुनाव में AAP का फ्री बिजली का वादा, कांग्रेस-शिअद को लग सकता है झटका

    सुखबीर बादल ने कहा कि हम यह भी मांग करते हैं कि सरकार किसानों को उनकी धान की फसल उगाने के लिए खर्च होने वाली अतिरिक्त लागत के लिए 50 रुपये प्रति क्विंटल बोनस का भुगतान करे.

    बिक्रम सिंह मजीठिया ने कहा कि पंजाब में इन दिनों बिजली इमरजेंसी के हालात हैं. उद्याोग और पंजाब की इकोनॉमी खत्म हो चुकी है. राज्य के किसान धान की बिजाई के लिए बिजली के लिए 42 डिग्री तापमान में सड़कों पर धरने देने को मजबूर हैं. दूसरी तरफ कैप्टन सरकार ने कोरोना के कारण मंदी से जूझ रहे उद्योग को वित्तीय पैकेज देने के बजाय अगले दो दिन आपात छुट्टी पर रहने के आदेश जारी कर दिया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज