शहीद ए-आजम भगत सिंह के भतीजे अभय संधू कोरोना पॉजिटिव, CM ने ट्वीट कर दी जानकारी

शहीद- ए- आजम भगत सिंह के भतीजे अभय संधू कोराना पॉजिटिव.

शहीद- ए- आजम भगत सिंह के भतीजे अभय संधू कोराना पॉजिटिव.

Punjab Coronavirus News: पंजाब देश का दूसरा राज्य है जहां रोजाना कोरोना से सबसे अधिक मौतें हो रही हैं. इसे देखते हुए राज्य के सभी जिलों में नाइट कर्फ्यू लगाया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 8, 2021, 12:37 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. शहीद- ए- आजम भगत सिंह (Shaheed-e-Azam Bhagat Singh) के भतीजे अभय संधू (Abhay Sandhu) कोराना पॉजिटिव (Corona positive) पाए गए हैं. उन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Capt Amarinder Singh) ने यह जानकारी ट्वीट कर दी है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि उन्हें अभय संधू के कोरोना पॉजिटिव होने का समाचार मिला है. कैप्टन ने कहा है कि उन्होंने अभय संधू की पत्नी को फोन कर उनका कुशलक्षेम पूछा है. मुख्यमंत्री ने अभय संधू के शीघ्र स्वास्थ होने की कामना की है.

भगत सिंह के छोटे भाई के पुत्र हैं अभय
अभय संधू सरदार भगत सिंह के छोटे भाई सरदार कुलबीर सिंह के पुत्र हैं. कुलबीर का जन्म 1914 में हुआ था. कुलबीर फिरोजपुर से जनसंघ के विधायक भी रहे हैं. संधू ने बताया कि उनके पिता कुलबीर सिंह ने भी राष्ट्रीय अभिलेखागार में रखी फाइलों को सार्वजनिक करने की मांग की थी. 1983 में पिता की मौत हो जाने के बाद उन्होंने भी यह मांग उठाई, पर निराशा ही हाथ लगी है. शहीदे आजम से जुड़ी फाइलों को कड़ी गोपनीयता में रखा गया है. उनका यह भी दावा है कि उनके परिवार पर सुरक्षा एजेंसियों द्वारा सालों तक निगाह रखी जाती रही है.

पंजाब में फिर पैर पसार रहा कोरोना
गौरतलब है कि कोरोना ने व्यापक स्तर पर एक बार फिर से पंजाब में अपने पांव पसारने शुरू कर दिए हैं. बीते 24 घंटों में पंजाब में 3 हजार के करीब नए कोरोना के मामले सामने आए हैं और 63 लोगों की मौत हो चुकी है. पंजाब देश का दूसरा राज्य है जहां रोजाना कोरोना से सबसे अधिक मौतें हो रही हैं. इसे देखते हुए राज्य के सभी जिलों में नाइट कर्फ्यू लगाया गया है और सभी शिक्षण संस्थानों को भी बंद कर दिया गया है. राज्य में राजनीतिक दलों की रैलियों पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है. राज्य में यह पाबंदियां अभी 10 अप्रैल तक जारी थीं, सरकार ने जिन्हें बढ़ाकर 30 अप्रैल तक जारी रखने के आदेश जारी किए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज