होम /न्यूज /पंजाब /

पंजाब के रूपनगर में रेलवे ट्रैक पर आए आवारा मवेशी, माल गाड़ी के 16 रैक बेपटरी, रद्द करनी पड़ीं 8 ट्रेनें

पंजाब के रूपनगर में रेलवे ट्रैक पर आए आवारा मवेशी, माल गाड़ी के 16 रैक बेपटरी, रद्द करनी पड़ीं 8 ट्रेनें

पंजाब के रूपनगर में रेलवे ट्रैक पर आवारा मवेशियों का झुंड आ जाने से एक माल गड़ी के 16 रैक्स बेटपरी हो गए. (सांकेतिक तस्वीर)

पंजाब के रूपनगर में रेलवे ट्रैक पर आवारा मवेशियों का झुंड आ जाने से एक माल गड़ी के 16 रैक्स बेटपरी हो गए. (सांकेतिक तस्वीर)

रेलवे ट्रैक को मरम्मत के लिए अब अवरुद्ध कर दिया गया है और सोमवार शाम तक इसे यातायात के लिए खोले जाने की संभावना है. इस रूट की आठ ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं.

चंडीगढ़: पंजाब के रूपनगर में आवारा मवेशियों के रेलवे ट्रैक पर आ जाने से एक मालगाड़ी बेपटरी हो गई. जानकारी के मुताबिक रविवार रात करीब 12:35 बजे सांडों का एक झूंड अचानक मालगाड़ी के सामने आ गया. ड्राइवर ने मवेशियों को बचाने के लिए इमरजेंसी ब्रेक लगाया, जिससे अनियंत्रित होकर मालगाड़ी के 16 डिब्बे ट्रैक से उतर गए. मालगाड़ी के सभी डिब्बे खाली थे, जो थर्मल प्लांट में कोयला छोड़कर वापस लौट रहे थे.

यह घटना गुरुद्वारा पाठा साहिब के पास हुई. रेलवे ट्रैक को मरम्मत के लिए अब अवरुद्ध कर दिया गया है. मौके पर रेलवे का बचाव दल मशीनों के साथ पहुंच गया है, और ट्रैक की मरम्मत का काम जारी है. पठानकोट-अमृतसर रेल मार्ग की आठ ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं.  रेलवे विभाग ने 18 अप्रैल की शाम 4 बजे तक रेलवे ट्रैक क्लियर करने का दावा किया है.

पंजाब में इस समय 2.5 लाख के करीब आवारा पशु हैं, जिनके प्रबंधन के लिए सरकारें कई सालों से दावे तो कर रही हैं लेकिन इस समस्या का आज तक कोई स्थाई समाधान नहीं निकाला जा सका है. आवारा पशुओं के कारण सड़क हादसों में सैकड़ों लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. कांग्रेस की पूर्ववर्ती सरकार ने आवारा पशुओं को पकड़ने के लिए ई-पोर्टल तैयार करने की योजना बनाई थी.

योजना के तहत बेसहारा मवेशी की तस्वीर ई-पोर्टल पर अपलोड करना था और इन्हें सरकार कैटल पाउंड में पहुंचाती. बहरहाल यह योजना अब भी सरकारी फाइलों में बंद है और आवारा मवेशियों के कारण हादसों का दौर जारी है. जानकारी के मुताबिक राज्य में आवारा मवेशियों के लिए 77 कैटल पाउंड उपलब्ध हैं.

इससे पहले अप्रैल के पहले हफ्ते में पंजाब के गुरदासपुर रेलवे स्टेशन पर भी मालगाड़ी का एक डिब्बा बेपटरी हो गया था. इस हादसे में कोई घायल या हताहत तो नहीं हुआ था, लेकिन रेल यातायात घंटों तक प्रभावित रहा था. पठानकोट-अमृतसर रेल मार्ग पर चलने वाली कुछ ट्रेनों को रद्द करना पड़ा था. फिर ट्रैक की मरम्मत के बाद इस रूट पर यातायात उसी दिन शुरू हो गया था.

बीती 15 अप्रैल की रात दादर-पुडुचेरी एक्सप्रेस (ट्रेन नंबर 11005) के 3 डिब्बे मुंबई के माटुंगा स्टेशन के पास पटरी से उतर गए थे. सीएसएमटी-गडग एक्सप्रेस का इंजन ने दादर-पुडुचेरी एक्सप्रेस को पीछे से टक्कर मार दी, जिसकी वहज से यह घटना हुई. हालांकि इसमें किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है.

Tags: Accident, Goods trains, Punjab

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर