सुखबीर बादल बोले- कृषि कानून वापस नहीं लिए तो और तेज होगा किसान आंदोलन

सुखबीर बादल की पार्टी आगामी चुनाव की तैयारी में लग गई है.

शिअद नेता सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल में एकमात्र शिअद मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने इस्तीफा दे दिया और हम एनडीए से बाहर हो गए. इसलिए अकाली दल किसानों के साथ खड़ा है.

  • Share this:
    चंडीगढ़. पंजाब में आगामी विधानसभा चुनाव (Punjab Assembly Election 2022) में केंद्र के तीन कृषि कानून मुख्य मुद्दा रहेंगे. करीब 7 महीने से किसान दिल्ली की पांच अलग-अलग सीमाओं पर आंदोलन कर रहे हैं. वहीं सरकार और किसानों के बीच लंबे समय से बातचीत भी बंद है. इन सबके बीच शिरोमणि अकाली दल के नेता सुखबीर सिंह बादल (Sukhbir Singh Badal) ने कहा कि इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री को शुरुआत करनी होगी. वह परिवार के मुखिया की तरह है.

    बादल ने कहा कि कानून लोगों के लिए बनाए जाते हैं. अगर लोग आपके बनाए कानून नहीं चाहते हैं तो किसी में यह अहंकार नहीं होना चाहिए कि जो हो गया वह वापस नहीं हो सकता है. अगर मोदी को लोगों का प्रधानमंत्री बने रहना है तो उन्हें जल्द से जल्द कानून वापस लेना होगा.

    तो आंदोलन और तेज होगा - बादल
    अंग्रेजी अखबार हिन्दुस्तान टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में बदल ने कहा कि अगर सरकार कानूनों को वापस नहीं लेगी तो आंदोलन और तेज होगा. फिर यह आंदोलन जारी रहेगा, चाहे छह महीने, एक साल या दो साल लगें. देखिए वो गरीब किसान किस तरह सर्दी, गर्मी, कोविड और मच्छरों के बावजूद डटे हुए हैं.

    यह पूछे जाने पर कि उनकी पार्टी ने शुरुआत में अध्यादेश के साथ थी तो बादल  ने दावा किया कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार में सहयोगी होने के नाते हम उस जाल में फंस गए.  जब केंद्र ने संसद में कृषि कानूनों पर जोर दिया, तो केंद्रीय मंत्रिमंडल में एकमात्र शिअद मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने इस्तीफा दे दिया और हम एनडीए से बाहर हो गए. इसलिए अकाली दल किसानों के साथ खड़ा है.

    बादल ने कहा कि  उनके इस्तीफे के बाद ही किसानों का विरोध एक राष्ट्रीय मुद्दा बन गया. साल 1984 में जब सेना ने स्वर्ण मंदिर पर धावा बोला, राष्ट्रपति और केंद्रीय गृह मंत्री सिख चेहरे थे लेकिन उन्होंने कभी इस्तीफा नहीं दिया. हरसिमरत एकमात्र केंद्रीय मंत्री हैं जिन्होंने पंजाब के लिए गंभीर महत्व के मुद्दे पर कैबिनेट छोड़ दिया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.