अपना शहर चुनें

States

शिरोमणि अकाली दल ने दिल्ली में हिंसा को बताया निंदनीय तो CM बोले शर्म से झुक गया सिर

लाल किले पर झंडा फहराने के कृत्य को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने देश का अपमान करार दिया है.
लाल किले पर झंडा फहराने के कृत्य को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने देश का अपमान करार दिया है.

गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन लाल किले (Red Fort) पर झंडा फहराने के कृत्य को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने देश का अपमान करार दिया है. उन्‍होंने कहा कि इस घटना ने देश को शर्मशार किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 28, 2021, 11:47 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. शिरोमणि अकाली दल (Shiromani Akali Dal) ने शांति और सांप्रदायिक सद्भाव के लिए अपना मजबूत और अटूट समर्थन दोहराने की बात कही है. अकाली दल ने कहा कि हमने हमेशा इन मूल्यों की सुरक्षा के लिए संघर्ष किया है और बलिदान किया है. वहीं गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन लाल किले (Red Fort) पर झंडा फहराने के कृत्य को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने देश का अपमान करार दिया है. उन्‍होंने कहा कि इस घटना ने देश को शर्मशार किया है.

शिरोमणि अकाली दल की ओर से जारी एक बयान में पार्टी ने कहा कि वह किसी भी तरह से हिंसा का विरोध करती है. पार्टी की कोर कमेटी की आपात बैठक के बाद जारी एक बयान में, पार्टी ने कहा, हम दृढ़ता से मानते हैं कि पंजाब और देश तभी समृद्ध हो सकते हैं जब शांति और सांप्रदायिक सद्भाव का माहौल कायम हो. एक प्रस्ताव में पार्टी ने भारत सरकार से कहा कि वह दिल्ली में घटनाओं का इस्तेमाल किसानों की जायज मांगों को नजरअंदाज करने के बहाने के रूप में न करे. पार्टी ने कहा है कि हम संसद के आगामी सत्र के दौरान इन मांगों को सख्ती से उठाएंगे.

उधर दिल्ली में गणतंत्र दिवस की हिंसा और लाल किले पर झंडा फहराने के कृत्य को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने देश का अपमान करार दिया है. इस घटना ने देश को शर्मशार किया है. उन्होंने कहा कि इस घटना से किसानों का आंदोलन कमजोर होगा. कैप्टन ने कहा कि वह किसानों के साथ खड़े हैं. कृषि कानून गलत हैं और संघीय ढांचे के खिलाफ हैं.
इसे भी पढ़ें :- ट्रैक्टर रैली में हिंसा और लाल किले पर बवाल का आरोपी दीप सिद्धू गायब हो गया





मुख्यमंत्री ने जोर देकर कहा कि लाल किला स्वतंत्र भारत का प्रतीक है और हजारों भारतीयों ने लाल किले पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया था. उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने संपूर्ण स्वतंत्रता संग्राम अहिंसा के आधार पर लड़ा था. कैप्टन कहा, "राष्ट्रीय राजधानी में जो हुआ उससे मैं अपना सिर शर्म से झुका रहा हूं."
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज