पंजाब के जेल मंत्री रंधावा पर मुख्तार अंसारी के करीबियों से मिलने का आरोप

पंजाब पुलिस मुख्तार अंसारी को 10 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगने के मामले में 2 साल पहले प्रॉडक्शन वॉरंट (Production Warrant) पर मोहाली ले आई थी.

पंजाब पुलिस मुख्तार अंसारी को 10 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगने के मामले में 2 साल पहले प्रॉडक्शन वॉरंट (Production Warrant) पर मोहाली ले आई थी.

Punjab Latest news in Hindi: पंजाब में कांग्रेस सरकार के जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा दो दिनों के लिए लखनऊ दौरे पर थे. वहां उन्हें बीएसएनएल के एक कार्यक्रम में शिरकत करनी थी. वह वहां पर एक निजी होटल में ठहरे हुए थे. उन पर आरोप है कि रंधावा ने दौरे के दौरान जिस गाड़ी का इस्तेमाल किया वह मुख्तार अंसारी के करीबियों की ही थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 17, 2021, 9:56 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. हाल ही में उत्तर प्रदेश के दौरे से लौटे पंजाब कांग्रेस सरकार (Punjab Congress Government) के जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा (Jail Minister Sukhjinder Singh Randhawa) विवादों से घिर गए हैं. इस दौरे के बाद उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री सिर्द्धाथ नाथ सिंह (Uttar Pradesh government minister Siddharth Nath Singh) ने आरोप लगाया है कि वह यूपी आकर पंजाब की रोपड़ जेल में बंद बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी (Bahubali leader Mukhtar Ansari) के करीबियों को मिले हैं.

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा है कि वे गुपचुप तरीके से अंसारी के लोगों को मिले. सिर्द्धाथ नाथ सिंह ने आरोप लगाया कि यूपी में कई आपराधिक मामलों में वांछित अंसारी को प्रदेश पुलिस वापिस लाना चाहती है लेकिन पंजाब सरकार उन्हें बचाने की कोशिश कर रही है.

Youtube Video




रंधावा ने आरोपों को नकारा   
पंजाब में कांग्रेस सरकार के जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा दो दिनों के लिए लखनऊ दौरे पर थे. वहां उन्हें बीएसएनएल के एक कार्यक्रम में शिरकत करनी थी. वह वहां पर एक निजी होटल में ठहरे हुए थे. उन पर आरोप है कि रंधावा ने दौरे के दौरान जिस गाड़ी का इस्तेमाल किया वह मुख्तार अंसारी के करीबियों की ही थी. हालांकि सुखजिंदर सिंह रंधावा ने पंजा पहुंच कर इस आरोप को सिरे से खारिज कर दिया है. उन्होंने का कि यूपी के मंत्री के आरोप निराधार हैं. वह अपने दौरे के दौरान ऐसे किसी भी व्यक्ति से नहीं मिले हैं जिसका संबंध अंसारी से हो.

पंजाब की जेल में क्यों बंद है डॉन मुख्तार अंसारी?
पंजाब पुलिस मुख्तार अंसारी को 10 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगने के मामले में 2 साल पहले प्रॉडक्शन वॉरंट (Production Warrant) पर मोहाली ले आई थी. उस पर आरोप था कि मोहाली के एक बड़े बिल्डर को फोन करके खुद को मुख्तार अंसारी बताते हुए 10 करोड़ रुपये मांगे गए थे. 24 जनवरी 2019 को अदालत में पेश करने के बाद उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था. तब से वह जांच के चलते रोपड़ जेल में बंद है.

यूपी में दर्ज हैं कई मामले
बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी पर उत्तर प्रदेश में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं और वहां की पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट में उसे रोपड़ जेल से यूपी की गाजीपुर जेल में स्थानांतरित करने की मांग की है. यूपी पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट में दी गई याचिका में कहा है कि पंजाब सरकार एक गैंगस्टर को बचाने का प्रयास कर रही है. जबकि पंजाब सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दलील दी है कि स्वास्थ्य कारणों के चलते अंसारी को फिलहाल रोपड़ जेल से स्थानांतरित नहीं किया जा सकता.

ये भी पढ़ें- नंदीग्राम में ममता बनर्जी पर हमले का कोई सबूत नहीं मिला- चुनाव आयोग

मुख्तार अंसारी का जन्म यूपी के गाजीपुर जिले में ही हुआ था. राजनीति मुख्तार अंसारी को विरासत में मिली थी. उनके दादा मुख्तार अहमद अंसारी अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रहे हैं. जबकि उनके पिता एक कम्युनिस्ट नेता थे. कॉलेज में ही पढ़ाई लिखाई में ठीक मुख्तार ने अपने लिए अलग राह चुनी थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज