होम /न्यूज /पंजाब /अमेरिकी एजेंसी FBI ने भारत सरकार से किया संपर्क, गैंगस्टर गोल्डी बराड़ के प्रत्यर्पण को लेकर हुई बात

अमेरिकी एजेंसी FBI ने भारत सरकार से किया संपर्क, गैंगस्टर गोल्डी बराड़ के प्रत्यर्पण को लेकर हुई बात

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड के मास्टरमाइंड हिंदुस्तान के मोस्ट वांटेड गैंगस्टर गोल्डी बराड़ को जल्द ही अमेरिका से भारत लाया जा सकता है. (File Photo)

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड के मास्टरमाइंड हिंदुस्तान के मोस्ट वांटेड गैंगस्टर गोल्डी बराड़ को जल्द ही अमेरिका से भारत लाया जा सकता है. (File Photo)

गोल्डी बराड़ को लेकर FBI ने विदेश मंत्रालय के जरिए पंजाब पुलिस से संपर्क साधा. गोल्डी बराड़ को कैलिफोर्निया की सैक्रामें ...अधिक पढ़ें

चंडीगढ़: हिंदुस्तान के मोस्ट वांटेड गैंगस्टर गोल्डी बराड़ को जल्द ही अमेरिका से भारत लाया जा सकता है. News 18 इंडिया को पंजाब पुलिस के बड़े अधिकारियों ने जानकारी दी कि अमेरिका के फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन यानी FBI ने राज्य पुलिस से इस संबंध में संपर्क किया है. गोल्डी बराड़ को लेकर FBI ने विदेश मंत्रालय के जरिए पंजाब पुलिस से संपर्क साधा और सिद्धू मूसेवाला की हत्या के मुख्य साजिशकर्ता के बारे में जानकारियां मांगी हैं. गोल्डी बराड़ को कैलिफोर्निया की सैक्रामेंटो सिटी से पकड़ा गया था. पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने भी पुष्टि करते हुए बताया था कि मोस्ट वांटेड गैंगस्टर गोल्डी बराड़ को जल्द से जल्द भारत लाया जाएगा.

गैंगस्टर से FBI ने लंबी पूछताछ भी की है. पंजाब पुलिस और भारत की सेंट्रल एजेंसियां, अमेरिकी एजेंसी FBI के इस कम्युनिकेशन को गोल्डी बराड़ के प्रत्यर्पण के संबंध में बड़ी कामयाबी मान रही हैं. वह 2017 से कनाडा में था और कानून प्रवर्तन और प्रतिद्वंद्वी गिरोहों के डर से हाल ही में अमेरिका चला गया था. उसे 20 नवंबर के आसपास हिरासत में लिया गया था. बराड़ ने ही कथित रूप से पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या की साजिश रची थी, और फेसबुक पोस्ट के जरिए इसकी जिम्मेदारी भी ली थी. इंटरनेशनल लेवल पर अपनी पहचान बना चुके सिंगर सिद्धू मूसेवाला की 29 मई को पंजाब के मनसा जिले में उनके गांव के पास गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.
" isDesktop="true" id="4996987" >
इस हत्याकांड में संलिप्तता को लेकर 3 आरोपी एनकाउंटर में मारे जा चुके हैं, जबकि 30 से अधिक गिरफ्तार हो चुके हैं. गोल्डी बराड़, गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के गैंग का सदस्य है. बिश्नोई तिहाड़ जेल में बंद है. बराड़ गिरफ्तारी से बचने के लिए कभी कनाडा और कभी अमेरिका और अन्य देशों में छुप रहा था. गोल्डी बराड़, जिसका पूरा नाम सतिंदरजीत सिंह है, पांच साल पहले मूल रूप से स्टूडेंट वीजा पर कनाडा चला गया था, जहां वह एक ट्रक ड्राइवर के रूप में काम कर रहा था. हरियाणा और राजस्थान की सीमा से लगे पंजाब के दक्षिणी क्षेत्र में मुक्तसर जिले के मूल निवासी, गोल्डी बराड़ और लॉरेंस बिश्नोई करीब एक दशक पहले चंडीगढ़ में छात्र राजनीति के दिनों में दोस्त बने थे.

जांच एजेंसियों का दावा है कि मई में मूसेवाला की हत्या के समय लॉरेंस बिश्नोई तिहाड़ जेल में था– यहीं से अपना गिरोह चला रहा था. अपने फेसबुक पोस्ट में गोल्डी बराड़ ने कहा था कि उसने यूथ अकाली दल के नेता विक्की मिड्दुखेरा की हत्या के ‘प्रतिशोध में’ सिद्धू मूसेवाला की हत्या करवाई. मूसेवाजा के पिता बलकौर सिंह ने हाल ही में बराड़ को पकड़वाने में मदद करने के लिए 2 करोड़ रुपए इनाम की घोषणा की थी. उन्होंने कहा था कि भले ही मुझे अपना सबकुछ बेचना या गिरवी रखना पड़े, लेकिन अपने बेटे की हत्या के साजिशकर्ता को पकड़वाने वाले को मैं पैसे दूंगा. वहीं, वरिष्ठ अकाली नेता बिक्रम सिंह मजीठिया ने शनिवार को कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री भगवंत मान के बयान पर भरोसा नहीं है. उन्होंने दावा किया कि उनके पास इस बात की पुख्ता जानकारी है कि गोल्डी बराड़ को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है. सीएम मान का बयान भ्रामक है. क्या डीजीपी इस बात की पुष्टि करेंगे कि बराड़ को अमेरिका में पकड़ा गया है. अगर वह वास्तव में पकड़ा गया है तो इसे सार्वजनिक करें.

Tags: Gangsters in Punjab, Lawrence Bishnoi, Sidhu Moose Wala

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें