• Home
  • »
  • News
  • »
  • punjab
  • »
  • दामाद की मौत पर उबला गांव, अत्याचार के खिलाफ सड़क पर उतरा दलित समाज

दामाद की मौत पर उबला गांव, अत्याचार के खिलाफ सड़क पर उतरा दलित समाज

पंजाब के संगरूर में दलित युवक की हत्या के खिलाफ पूरा गांव सड़क पर उतर आया है. इसे देखते हुए सुरक्षा-व्‍यवस्‍था सख्‍त कर दी गई है.

पंजाब के संगरूर में दलित युवक की हत्या के खिलाफ पूरा गांव सड़क पर उतर आया है. इसे देखते हुए सुरक्षा-व्‍यवस्‍था सख्‍त कर दी गई है.

संगरूर (Sangrur) जिले के भवानीगढ़ सब डिविजन के गांव भट्टीवाल कलां के लोग मृतक (victim) के समर्थन में उतर आए और प्रदर्शन (Protest) किया. गांव के लोगों ने कहा कि जगमेल सिंह उनके गांव का दामाद था.

  • Share this:
    चंड़ीगढ़: पंजाब (Punjab) में संगरूर (Sangrur) जिले के चंगालीवाला में दलित (Dalit) युवक जगमेल सिंह की पिटाई और उसको मूत्र पिलाने के बाद की वजह से इलाज के दौरान हुई मौत के बाद दलित समाज आक्रोशित है. शनिवार देर रात संगरूर के भवानीगढ़ सब डिविजन के गांव भट्टीवाल कलां गांव (जहां का मृतक जगमेल सिंह दमाद था) में उसके ससुराल वालों और गांव के लोगों ने प्रदर्शन किया.

    जगमेल सिंह ससुराल पक्ष के प्रदर्शनकारियों ने पंजाब सरकार और प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. लोगों ने आरोपियों के लिए फांसी की सजा की मांग की. गांव वालों ने कहा है कि रविवार को सारा गांव लहरागागा में एसडीएम का घेराव करेगा. गांव के लोगों ने कहा कि जगमेल इस गांव का दामाद था और उस पर हुए अत्याचार और दरिंदगी के खिलाफ कोई भी व्यक्ति घर पर नहीं बैठेगा. सड़कों पर उतरकर दलित युवक के साथ हुई ज्यादती के खिलाफ आवाज उठाएंगे.

    पंजाब के मंत्री ने दिया बयान
    पंजाब के संगरूर में दलित नौजवान की पिटाई के बाद हुई मौत के मामले पर बोले पंजाब के कैबिनेट मंत्री विजय इन्द्र सिंगला ने कहा कि दोषियों को सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए. यह सजा दिलानी मेरी जिम्मेदारी है. वहीं, मृतक के परिजनों ने कहा कि जब तक सरकार मुआवजा और मृतक की पत्नी को सरकारी नौकरी नहीं देती तब तक शव का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा. अपनी मांगों को लेकर परिजन मृतक का शव नहीं ले रहे हैं.

    पंजाब की पूर्व CM के सुसराल की है घटना
    पंजाब के संगरूर के दलित नौजवान जगमेल सिंह की बेरहमी से पिटाई और उसकी मौत के बाद संगरूर के लहरागागा में संघर्ष शुरू हो गया है. जहां परिवार के लिए मुआवजे के साथ-साथ मृतक की पत्नी के लिए सरकारी नौकरी की मांग की जा रही है.

    मृतक की मां ने कहा- कातिलों को मौत की सजा मिले
    मृतक की मां ने कहा, 'मेरा बेटा कहीं घूम रहा था तभी किसी बहाने से उसे कुछ लोगों ने अपने घर बुलाकर बेरहमी से पीटा. हम इंसाफ चाहते हैं और जिन्होंने ये कत्ल किया है उन्हें सजा दिलवाना चाहते हैं.' मृतक के बेटे ने कहा कि दोषियों को सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए और परिवार को इंसाफ मिलना चाहिए.

    मृतक के बड़े भाई के साथ हुई थी मारपीट
    मृतक के बड़े भाई ने कहा कि कुछ दिनों पहले उसके बड़े भाई के साथ भी ऐसा ही किया गया था. उसे भी धोखे से शराब पिलाकर बुरी तरह पीटा गया था. अब उनके छोटे भाई के साथ भी ऐसा ही किया गया है. उन्होंने कहा कि इन लोगों को सख्त से सख्त सजा दी जानी चाहिए, ताकि इन्हें सबक मिले और आगे किसी के साथ भी ऐसा न करें.

    सामाजिक संगठन कर रहे न्याय की मांग
    जगमेल के लिए इंसाफ की जंग लड़ रहे समाजसेवी गुरप्रीत सिंह ने कहा कि जबसे गांव के इस नौजवान की मौत हुई है गांव में शोक का माहौल है. अलग-अलग सामाजिक संगठन मृतक के परिजनों को मुआवजा और मृतक की पत्नी के लिए सरकारी नौकरी की भी मांग कर रहे हैं.

    सांसद ने की सख्त कार्रवाई की मांग
    आम आदमी पार्टी के नेता भगवंत मान ने कहा कि हम पीड़ित परिवार के साथ हैं. मान ने कहा कि मामले में जो भी दोषी हैं, उन्हें सख्त सजा दी जानी चाहिए. भगवंत मान ने कहा कि हम आम आदमी पार्टी की ओर से मांग करते हैं कि ऐसे दोषियों को सख्त से सख्त सजा दी जाए, ताकि आगे से कोई ऐसी हरकत न करें.

    AAP नेता इन्द्र सिंगला बोले- हम पीड़ि‍त परिवार के साथ
    इस मामले पर आप नेता विजय इन्द्र सिंगला ने कहा कि जो हुआ बहुत गलत हुआ है. हम परिवार के साथ हैं और सरकार की ड्यूटी है कि दोषियों को सख्त से सख्त सजा दिलाए. उन्होंने कहा कि मुआवजे की जो परिवार मांग कर रहा है उसे पंजाब सरकार के नियमों के अनुसार देखा जाएगा जो हालात बनेंगे उसके हिसाब से देखा जाएगा परंतु दोषियों को सख्त से सख्त सजा मिलेगी ये मेरी पहली प्राथमिकता है.

     ये भी पढ़ें- रेप केस के आरोपी नित्यानंद के पूर्व भक्त का आरोप- मेरे 4 बच्चों को जबरन कैद किया

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज