बेटी ने की थी लव मैरिज, पिता-भाई ने गला दबाकर मार डाला

पटियाला के घिओरा गांव निवासी मनजीत सिंह की बेटी ज्योति ने गांव के ही गुरजंट सिंह के साथ मई में चुपचाप शादी कर ली थी. बाद में दोनों परिवार के लोगों ने पंचायत बुला कर दोनों का तलाक करवा दिया था.

News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 10:50 AM IST
बेटी ने की थी लव मैरिज, पिता-भाई ने गला दबाकर मार डाला
पुलिस ने बताया कि सूचना के बाद मौक पर पहुंचे तो ज्योति की लाश पूरी तरह से जल चुकी थी. ऐसे में अस्थियों के साथ ही पैर का एक टुकड़ा पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है. (प्रतीकात्मक फोटो)
News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 10:50 AM IST
एक बेटी को अपनी मर्जी से शादी करना इतना भारी पड़ा कि उसे इसके लिए अपनी जान गंवानी पड़ी. उसकी गला दबाकर हत्या कर दी गई और हत्या करने वाले भी और कोई नहीं खुद का ही पिता और भाई थे. जानकारी के अनुसार पटियाला के घिओरा गांव निवासी मनजीत सिंह की बेटी ज्योति ने गांव के ही गुरजंट सिंह के साथ मई में चुपचाप शादी कर ली थी. बाद में दोनों परिवार के लोगों ने पंचायत बुला कर दोनों का तलाक करवा दिया. जिसके बाद 14 जुलाई को ज्योति एक बार फिर गुरजंट के घर गई. इस बात का पता उसके पिता और भाई को पता चल गया. बाद में दोनों लोग ज्योति को घर लागए और रात में ही गला दबाकर हत्या कर दी. फिर उसी समय श्मशान में ले जाकर उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया गया.

अस्थियों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा
पुलिस ने बताया कि गुरजंट की शिकायत पर ज्योति के पिता मनजीत सिंह और भाई जिंदर सिंह पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है. दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है और पूछताछ जारी है. पुलिस ने बताया कि सूचना के बाद मौक पर पहुंचे तो ज्योति की लाश पूरी तरह से जल चुकी थी. ऐसे में अस्थियों के साथ ही पैर का एक टुकड़ा पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है.

घर से आ रही थी चींखने की आवाजें

पुलिस को गुरजंट ने बताया कि 14 जुलाई को परिजनों ने ज्योति के घर आने की बात बताई. इस दौरान वह मोहाली में था. जब वह वापस आया तो ज्योति के घर की तरफ गया. इस दौरान उसके घर से चींखने की आवाजें आ रही थीं. उसने खिड़की से झांक कर देखा तो भाई ज्योति का गला दबा रहा था और उसके पिता ने पैर पकड़ रखे थे. उसकी हत्या करने के बाद दोनों लोग उसकी लाश को चादर में लपेट कर मोटरसाइकिल पर श्मशान ले गए और वहां पर अंतिम संस्कार कर दिया.

ये भी पढ़ें-  स्वतंत्रदेव सिंह बोले- मेरा सपना गरीबों का कल्याण करना

समाजवादी पार्टी के लिए कोढ़ हैं आजम खान: नरेश अग्रवाल
First published: July 17, 2019, 10:19 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...