युवक ने नौकरी छोड़ने की दी धमकी तो फाइनेंसर ने जहरीला इंजेक्शन देकर मार डाला

लुधियाना (Ludhiana) जिले में एक महिला फाइनेंसर ने अपने युवा कर्मचारी को जहरीला इंजेक्शन देकर मार डाला .

लुधियाना (Ludhiana) जिले में एक महिला फाइनेंसर ने अपने युवा कर्मचारी को जहरीला इंजेक्शन देकर मार डाला .

लुधियाना (Ludhiana) जिले में एक महिला फाइनेंसर ने अपने युवा कर्मचारी को जहरीला इंजेक्शन देकर मार डाला .

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2021, 2:58 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब (Punjab) के लुधियाना (Ludhiana) जिले में एक महिला फाइनेंसर ने अपने युवा कर्मचारी को जहरीला इंजेक्शन देकर इसलिए मार डाला क्यों उसने नौकरी छोड़ने की धमकी दी थी. पुलिस ने इस मामले में महिला फाइनेंसर, उसके बेट और एक अन्य महिला के खिलाफ हत्या का का मामला दर्ज किया.

अभी तक पुलिस ने फाइनेंसर और उसकी सहेली को गिरफ्तार कर लिया है जबकि उसका बेटा पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. बताया जा रहा है कि कर्मचारी को जहरीला इंजेक्शन देने के बाद वह करीब तीन घंटे तक तड़पता रहा. बाद में उसे अस्पताल भी पहुंचाया गया, लेकिन तब तक वह दम तोड़ चुका था.

क्या है मामला
पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक मृतक प्रकाश सिंह पुत्र लखबीर सिंह न्यू सतगुरु नगर, साहनेवाल का रहने वाला है. वह लुधियाना में रीटा (40) नाम महिला के पास फाइनेंस का काम करता था. रोजाना वह फाइनेंस की इंस्टालमेंट्स को कलेक्ट करके लाता था.
बीते 24 फरवरी को प्रकाश सिंह का भाई राजदीप सिंह उसके ऑफिस में उससे मिलने पहुंचा था. जहां पर उसने देखा कि उसके भाई प्रकाश और रीटा के बीच झगड़ा चल रहा था. वहां पर रीटा का बेटा अजय(20) और रीटा की सहेली पूनम (40) भी मौजूद थी. राजदीप अपने भाई को मिलने के बाद वापिस चला गया.



ऐसे खुला राज
इसके बाद शुक्रवार कल देर रात को रीटा का फोन आया कि उसके भाई प्रकाश की तबीयत बहुत ज्यादा खराब हो गई है.जिस पर प्रकाश के पिरजन उसे अस्पताल ले गए जहां पर उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया. मृतक के भाई राजदीप सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि जब प्रकाश को अस्पताल ले जाया जा रहा था तो उसने बताया था कि उसे जहरीला इंजेक्शन दिया गया है, क्यों उसने नौकरी छोड़ने की बात कही थी.

बताया जा रहा है कि इंजेक्शन लगने के बाद रीटा उसे अस्पताल नहीं लेकर गई और उसकी तबीयत खराब होने की सुचना परिजनों को दी गई. पुलिस ने दो आरोपी महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि मुख्य आरोपी महिला का बेटा अजय फरार है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज