राजस्थान: पांच राज्यों के चुनाव परिणाम के बाद पिछले 10 दिन में पेट्रोल के 1.70 और डीजल के 2 रुपए प्रति लीटर बढ़े दाम

पेट्रोल और डीडल के दामों में बढ़ोत्तरी को लेकर सीएम अशोक गहलोत ने मोदी सरकार को घेरा है.

पेट्रोल और डीडल के दामों में बढ़ोत्तरी को लेकर सीएम अशोक गहलोत ने मोदी सरकार को घेरा है.

पांच राज्यों के चुनाव परिणाम (Election Result) आने दस दिन बाद पेट्रोल की कीमत 1.70 रुपए और डीजल 2 रुपए प्रति लीटर की बढ़ गया है. जयपुर (Jaipur) में आज पेट्रोल 97.47 रुपए लीटर और डीजल 91.20 रुपए लीटर तक पहुंच गया.

  • Share this:

जयपुर. पश्चिम बंगाल सहित पांच राज्यों के चुनाव परिणाम (Election Result) आते ही अगले दिन से पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel) के दामों में बढ़ोतरी शुरू हो गई है. पिछले 10 दिनों में पेट्रोल पर 1.70 रुपए और डीजल पर 2 रुपए प्रति लीटर की बढ़ोतरी हो चुकी है. जयपुर (Jaipur) में आज पेट्रोल का भाव 97.47 रुपए प्रति लीटर और डीजल का भाव 91.20 रुपए प्रति लीटर तक पहुंच गया.

चुनाव परिणाम के बाद इस तरह बढ़े दाम

दिन                 पेट्रोल        डीजल

4 मई                0.17        0.21
5 मई                0.18        0.20

6 मई                0.24        0.31

7 मई                0.29        0.33



10 मई             0.27         0.36

11 मई             0.28         0.32

12 मई             0.27         0.27

विपक्ष ने उठाए सवाल

चुनाव परिणाम आने के बाद लगातार बढ़ पेट्रोल- डीजल के दामों को लेकर केंद्र सरकार पर विपक्ष लगातार आरोप लगा रहा है. 6 मई को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट करके कहा था कि जब तक पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव चल रहे थे मोदी सरकार ने पेट्रोल डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया. जबकि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें रोज बदल रही थीं. चुनावों के नतीजे आते ही केन्द्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाकर महामारी से ग्रस्त जनता पर महंगाई का बोझ डालना शुरू कर दिया है.

केंद्र सरकार को पेट्रोल-डीजल पर टैक्स घटाकर पहले से ही परेशान जनता को राहत देनी चाहिए. यूपीए सरकार के मुकाबले मोदी सरकार डीजल-पेट्रोल पर कई गुना अधिक टैक्स वसूल रही है, जिसके कारण लगातार महंगाई बढ़ रही है. वहीं प्रदेश के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि केंद्र सरकार ने वोटों को प्रभावित करने के लिए दाम नहीं बढ़ाए, जबकि इस दौर में दाम बढ़ाकर जनता की पीठ में खंजर खोपने का काम किया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज