अजमेर की सना ने तीन तलाक कानून के तहत दर्ज कराया राजस्थान का 'पहला' केस

अजमेर की सना की ओर से पति के खिलाफ दर्ज कराया मामला गुरुवार को ट्रिपल तलाक (Triple Talaq) पर बने कानून के तहत दर्ज होने वाला राजस्थान का पहला केस बन गया.

News18 Rajasthan
Updated: August 8, 2019, 9:12 PM IST
अजमेर की सना ने तीन तलाक कानून के तहत दर्ज कराया राजस्थान का 'पहला' केस
सना का केस ट्रिपल तलाक पर बने कानून के तहत दर्ज होने वाला प्रदेश का पहला केस बन गया.
News18 Rajasthan
Updated: August 8, 2019, 9:12 PM IST
राजस्थान के अजमेर (Ajmer) की रहने वाली सना की ओर से पति के खिलाफ दर्ज कराया मामला गुरुवार को ट्रिपल तलाक (Triple Talaq) पर बने कानून के तहत दर्ज होने वाला प्रदेश का पहला केस बन गया. अजमेर के दरगाह थाने में सना की शिकायत पर सलीमुद्दीन उर्फ सलीम के खिलाफ पुलिस ने विधिक राय के बाद तीन तलाक विरोधी कानून की धारा जोड़ी हैं. देश में ट्रिपल तलाक पर कानून बनने के बाद इसके तहत प्रदेश में दर्ज होने वाला यह पहला मामला बताया जा रहा है.

कहा- तलाक तलाक तलाक और घर से निकाल दिया

पुलिस में दर्ज मामले के अनुसार पीड़िता सना ने सलीम पर आरोप लगाया है कि शादी के बाद से पैसों की मांग को लेकर उसका पति मारपीट करता था. फिर मौखिक रूप से तीन बार तलाक बोलकर उसे घर से बेदखल कर दिया. पुलिस ने सना की शिकायत पर पहले दहेज प्रताड़ना में केस दर्ज किया और फिर विधिक राय लेने के बाद तीन तलाक निरोधक कानून की धाराएं जोड़ी.

पीड़िता की शिकायत पर पहले दहेज प्रताड़ना की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था. तीन तलाक निरोधक कानून की धाराओं को जोड़ने से पहले विधिक राय ली गई. अब धाराएं जोड़ने के साथ ही मामले की जांच शुरू कर दी है. 
हेमराज, थानाधिकारी, दरगाह थाना


शादी के 2 साल बाद 3 तलाक

रिपोर्ट में पीड़िता ने आरोप लगाया कि उसकी शादी वर्ष 2017 में हुई थी. शादी के बाद से ही उसे नाजायज तरीके से शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित किए जाने लगा. पति उससे पीहर पक्ष से पैसे मांगने का दबाव भी बनाता था. बाद में पति सलीमुद्दीन उर्फ सलीम ने उसे तलाक-तलाक-तलाक कहकर घर से निकाल दिया.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अजमेर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 8, 2019, 8:53 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...