अजमेर में नशे के कारोबार पर रेड: 5 करोड़ की नशीली दवा बरामद, दो गिरफ्तार

अजमेर में नशे के कारोबार पर रेड: 5 करोड़ की नशीली दवा बरामद, दो गिरफ्तार.

अजमेर में नशे के कारोबार पर रेड: 5 करोड़ की नशीली दवा बरामद, दो गिरफ्तार.

अजमेर पुलिस ने पिछले 8 दिनों में नशीली दवा के काले कारोबार के खिलाफ दूसरी बड़ी कार्रवाई की है. इसमें करीब साढ़े 5 करोड़ की दवा जब्त करते हुए 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस की इस दूसरी कार्रवाई में भी इस काले कारोबार का मास्टरमाइंड श्याम मूंदड़ा अभी भी पुलिस गिरफ्त से बाहर है.

  • Share this:

अजमेर. अजमेर पुलिस ( Ajmer Police ) ने पिछले 8 दिनों में नशीली दवा के काले कारोबार के खिलाफ दूसरी बड़ी कार्रवाई की है. इसमें करीब साढ़े 5 करोड़ की दवा जब्त करते हुए 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस की इस दूसरी कार्रवाई में भी इस काले कारोबार का मास्टरमाइंड श्याम मूंदड़ा अभी भी पुलिस गिरफ्त से बाहर है.

कोरोना महामारी की आड़ में अजमेर में नशीली दवा का कारोबार अपने पैर पसार रहा था. पिछले सप्ताह जयपुर पुलिस की सूचना पर हुई कार्यवाई में रामगंज इलाके के एक गोदाम से मिले नकली नशीली दवा के जखीरे की गुत्थी को पुलिस अभी पूरी तरह से सुलझाती उससे पहले ही मंगलवार को शहर के दो अलग अलग थाना इलाको में दबिश देकर नशीली दवाएं पकड़ी गईं. इसमें 35 लाख से ज्यादा नशीला दवाएं और इंजेक्शन को बरामद कर दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया.

अजमेर में इतनी बड़ी मात्रा में नशीली दवा के अवैध कारोबार का खुलासा होने के बाद पुलिस भी सकते में आ गई. पिछले एक सप्ताह में हुई 2 बड़ी कार्यवाही में पुलिस ने करीब 11 करोड़ कीमत की नशीली दवाओं के जखीरे को बरामद करते हुए 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों से पूछताछ में खुलासा हुआ कि इस काले कारोबार का मास्टरमाइंड श्याम सुंदर मूंदड़ा है, जो जयपुर से इस खेप को अजमेर मंगवाता और फिर इधर उधर छुपा देता था. कोरोना लॉकडाउन की आड़ में वो इस माल की सप्लाई करता उससे पहले ही भांडा फूट गया. हालांकि श्याम मूंदड़ा अभी भी पुलिस गिरफ्त से बाहर है.

अजमेर में मिली इतनी नशीली दवाओं की इतनी बड़ी खेप के बाद ड्रग कंट्रोलर विभाग के भी कान खड़े हो गए. ड्रग कंट्रोलर टीम ने दवा के होलसेल मार्किट विमला मार्किट में दबिश देते हुए कई दुकानों को खंगाला और कुछ को सीज करते हुए अपनी जांच शुरू कर दी है. बिना बिल के नशीली दवाओं के इतने बड़े कंसाइनमेंट को लेकर अब पुलिस की जांच फरार चल रहे मुख्य आरोपी श्याम मूंदड़ा पर आकर टिक गई है. गिरफ्तारी के लिए एसपी ने आधा दर्जन टीमें बनाई हैं, ताकि यह पता चल सके कि नशीली दवाओं की यह खेप अजमेर में कितनी मेडिकल स्टोर तक सप्लाई हो चुकी है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज