RAS Main Exam: 2018: RPSC ने जारी किया परिणाम, जल्द होंगे साक्षात्कार
Ajmer News in Hindi

RAS Main Exam: 2018: RPSC ने जारी किया परिणाम, जल्द होंगे साक्षात्कार
लंबे समय से कानूनी पचड़े में पड़ी रही इस परीक्षा के परिणाम के लिये पिछले दिनों ही हाइकोर्ट ने हरी झंडी दी थी.

राजस्थान लोक सेवा आयोग ने बहुप्रतिक्षित राजस्थान प्रशासनिक सेवा मुख्य परीक्षा- 2018 का परिणाम गुरुवार देर रात जारी कर दिया. इसके साथ ही कट ऑफ मार्क्स भी जारी कर दिये गये.

  • Share this:
अजमेर. राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) ने बहुप्रतिक्षित राजस्थान प्रशासनिक सेवा (RAS) मुख्य परीक्षा- 2018 का परिणाम गुरुवार देर रात जारी कर दिया. इसके साथ ही कट ऑफ मार्क्स भी जारी कर दिये गये. अब आयोग जल्द ही साक्षात्कार की प्रक्रिया शुरू करेगा. आरएएस मुख्य परीक्षा का परिणाम इसकी भर्ती विज्ञप्ति निकलने के करीब 27 माह बाद आया है.

यह रही है विभिन्न वर्गों की कट ऑफ
आरएएस मुख्य परीक्षा- 2018 के परिणामों में कट ऑफ मार्क्स को देखें तो सामान्य (महिला-पुरुष) 344, सामान्य (विधवा) 226.75 और एससी (सामान्य) 310.25 रही है. वहीं एसटी (सामान्य) 327.25, एसटी (विधवा) 182, ओबीसी (सामान्य) 344, ओबीसी (विधवा) 226.75, एमबीसी (सामान्य) 343.85 और एमबीसी (विधवा) 187.25 रही है. टीएसपी में 57 अभ्यर्थी सफल रहे हैं जबकि नॉन टीएसपी में 1953 सफल घोषित किया गया है. परीक्षा में अनुचित साधनों के प्रयोग के चलते 9 अभ्यर्थियों को परिणाम से बाहर कर दिया गया है. वहीं 2 अभ्यर्थियों के नतीजे हाइकोर्ट आदेश से रोके गए हैं. 11 अभ्यर्थियों के नतीजे हाइकोर्ट आदेश से बंद लिफाफे में रखे गये हैं.

Jaipur: निजीकरण के बाद राजस्थान के 4 से 9 शहरों के बीच चलेंगी फास्ट ट्रेनें, सुविधा पर ये करना पड़ेगा खर्च
11 अप्रैल, 2018 के जारी हुई थी विज्ञप्ति


उल्लेखनीय है कि इस परीक्षा के लिए विज्ञप्ति 11 अप्रैल, 2018 के जारी की गई थी. पहले 1017 पदों के लिए जारी हुई इस विज्ञप्ति में आयोग ने आरक्षण के मौजूदा ढांचे के तहत एमबीसी को 4 फीसदी आरक्षण दिया. उसके बाद अब भर्ती कुल 1051 पदों के लिए हो गई है. इनमें 405 पद आरएएस और 575 पद अधीनस्थ सेवाओं के हैं. शेष पद अन्य अलग-अलग वर्गों में विभाजित हैं.

राजस्थान: दसवीं की किताब में महाराणा प्रताप को बताया गया युद्ध कौशल में कमजोर, छिड़ा विवाद

पिछले दिनों ही हाईकोर्ट से मिली थी हरी झंडी
लंबे समय से कानूनी पचड़े में पड़ी रही इस परीक्षा के परिणाम के लिये पिछले दिनों ही हाइकोर्ट ने हरी झंडी दी थी. उसके बाद गत सोमवार को आयोग अध्यक्ष दीपक उप्रेती की अध्यक्षता में आयोग के फुल कमीशन की बैठक हुई थी. इसमें सभी तकनीकी पहलुओं पर चर्चा कर परिणाम जल्द जारी करने पर तैयारी की गई थी. उसके चार दिन बाद गुरुवार देर रात को आयोग ने इसका परिणाम जारी कर दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading