Assembly Banner 2021

केंद्रीय मंत्री नकवी ने 809वें उर्स पर PM मोदी की तरफ से अजमेर शरीफ दरगाह पर चढ़ाई चादर

केंद्रीय अल्पसंख्यक आयोग मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने उर्स के मौके पर अजमेर शरीफ में प्रधानमंत्री की तरफ से चादर चढ़ाई

केंद्रीय अल्पसंख्यक आयोग मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने उर्स के मौके पर अजमेर शरीफ में प्रधानमंत्री की तरफ से चादर चढ़ाई

309वें उर्स मौके पर प्रधानमंत्री का संदेश पढ़ा गया जिसमें उन्होंने कहा कि विभिन्न धर्मों, सम्प्रदायों और उनसे जुड़ी मान्यताओं और आस्थाओं का सद्भावपूर्ण सह-अस्तित्व और विविधता से भरे हमारे देश की अद्भुत धरोहर है. इस धरोहर को सहजने और मजबूत बनाने में देश के विभिन्न साधु संतों, पीर-फकीरों का बहुमूल्य योगदान रहा है. शांति और समरसता के उनके शास्वत संदेश ने हमारी सामाजिक सांस्कृतिक विरासत को हमेशा से समृद्ध किया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 16, 2021, 5:47 PM IST
  • Share this:
अजमेर. ख्वाजा गरीब नवाज के 809वें उर्स (Urs) में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की तरफ से चादर पेश की गई है. केंद्रीय अल्पसंख्यक आयोग मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi) पीएम मोदी की चादर लेकर अजमेर (Ajmer) आये थे. नकवी ने दरगाह कमेटी सदर अमीन पठान, सांसद भगीरथ चौधरी और डिप्टी मेयर नीरज जैन के साथ मजार शरीफ पर प्रधानमंत्री की चादर पेश की और दुआ की. दरगाह के निजाम गेट पर दरगाह दीवान के उत्तराधिकारी सैय्यद नसीरुद्दीन चिश्ती ने नकवी की अगवानी की. कड़े सुरक्षा बंदोबस्त के बीच जन्नती दरवाजे से होते हुए प्रधानमंत्री की चादर पेश हुई.

इसके बाद सोल्थम्भा गेट के पास प्रधानमंत्री का संदेश पढ़कर सुनाया गया जिसमें उन्होंने दुनियाभर के अकीदतमंदों को उर्स की मुबारकबाद दी. साथ ही कहा कि यह वार्षिक उत्सव कौमी एकता और भाईचारे की खूबसूरत मिसाल है. पीएम मोदी ने अपने संदेश में कहा कि विभिन्न धर्मों, सम्प्रदायों और उनसे जुड़ी मान्यताओं और आस्थाओं का सद्भावपूर्ण सह-अस्तित्व और विविधता से भरे हमारे देश की अद्भुत धरोहर है. इस धरोहर को सहजने और मजबूत बनाने में देश के विभिन्न साधु संतों, पीर-फकीरों का बहुमूल्य योगदान रहा है. शांति और समरसता के उनके शास्वत संदेश ने हमारी सामाजिक सांस्कृतिक विरासत को हमेशा से समृद्ध किया है.





प्रधानमंत्री ने कहा कि गरीब नवाज ने अपने सूफी विचारों से समाज मे अमित छाप छोड़ महान आध्यत्मिक परम्परों के आदर्श प्रतीक के रूप के जाने जाते हैं. उनके प्रेम, सेवा, एकता और सौहार्द की भावना को बढ़ावा देते हुए गरीब नवाज के मूल्य और विचार मानवता को हमेशा प्रेरणा देते रहेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज