Ajmer News: बांग्लादेशी आर्मी ने अजमेर शरीफ में जियारत की, दोनों देशों के अच्छे संबंधों की दुआ मांगी

अजमेर स्थित दुनिया में विख्यात ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में बांग्लादेश की आर्मी के जवानों ने शुक्रवार सुबह जियारत की.

अजमेर स्थित दुनिया में विख्यात ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में बांग्लादेश की आर्मी के जवानों ने शुक्रवार सुबह जियारत की.

बांग्लादेश की सेना का 122 जवानों का यह दल नई दिल्ली में 26 जनवरी के गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होने के लिए भारत आया था. वहां उन्होंने राजपथ पर हुई परेड में भी हिस्सा लिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 9:53 PM IST
  • Share this:
अजमेर. अजमेर स्थित दुनिया में विख्यात ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में बांग्लादेश की आर्मी के जवानों ने शुक्रवार सुबह जियारत की. उन्होंने और दोनों देशों के बीच अच्छे संबंधों के लिए दुआ की. बंगला आर्मी के ये सभी जवान दिल्ली में हुए गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होने के लिए भारत आए हुए थे. जवान दिल्ली से तीन बसों से सुबह अजमेर पहुंचे और उन्होंने ख्वाजा के दरबार में हाजिरी दी.

जानकारी के अनुसार, बांग्लादेश आर्मी के 122 जवान तीन बसों से अजमेर पहुंचे और पुलिस सुरक्षा के बीच इस दल को दरगाह ले जाया गया, जहां उन्होंने जियारत की. बांग्लादेशी आर्मी के दल को जियारत सैय्यद नदीम चिश्ती ने करवाई. आर्मी जवानों के पूरे दल ने दरगाह के सामने ग्रुप फोटो भी खिंचवाई. बांग्लादेश के जवान यहां पहुंचकर काफी खुश दिखाई दिए.

कई जवानों ने कहा कि उनकी यहां पर आकर बरसों की मुराद पूरी हो गई. जवान दरगाह घूमे और याद के तौर पर अपने साथ ले जाने के लिए फोटोग्राफ भी लिए.

बांग्लादेश की सेना का 122 जवानों का यह दल नई दिल्ली में 26 जनवरी के गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होने के लिए भारत आया था. वहां उन्होंने राजपथ पर हुई परेड में भी हिस्सा लिया था. दल शुक्रवार सुबह अजमेर पहुंचा और दरगाह में जियारत करके वह दिल्ली लौट गए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज