Ajmer: पुलिस ने 10 लाख रुपये से ज्यादा कीमत के तम्बाकू उत्पाद किए जब्त, कारोबारी गिरफ्तार
Ajmer News in Hindi

Ajmer: पुलिस ने 10 लाख रुपये से ज्यादा कीमत के तम्बाकू उत्पाद किए जब्त, कारोबारी गिरफ्तार
कारोबारी विनय साहू मूल रूप से बिहार का रहने वाला है और वह पिछले 20 साल से अजमेर में इस कारोबार से जुड़ा है.

कोरोना (COVID-19) संकट के कारण लागू लॉकडाउन (Lockdown) के बीच मुनाफाखोरी के लालच में अवैध रूप से प्रतिबंधित तम्बाकू उत्पादों को बेचते और उनकी कालाबाजारी करने वाले कारोबारी के खिलाफ अजमेर पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है.

  • Share this:
अजमेर. कोरोना (COVID-19) संकट के कारण लागू लॉकडाउन (Lockdown) के बीच मुनाफाखोरी के लालच में अवैध रूप से प्रतिबंधित तम्बाकू उत्पादों को बेचते और उनकी कालाबाजारी करने वाले कारोबारी के खिलाफ अजमेर पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है. पुलिस ने कारोबारी से करीब 10 लाख रुपए से अधिक की कीमत की सामग्री और 6 लाख 97 हजार रुपये जब्त किए हैं. लॉकडाउन के दौरान प्रदेश में पुलिस की यह सबसे बड़ी कार्रवाई बताई जा रही है. कारोबारी के पास इनकी खरीद और बेचान का बिल भी नही मिला है.

मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने की कार्रवाई
पुलिस के अनुसार मुखबिर से मिली सूचना पर क्रिशचनगंज पुलिस और स्पेशल टीम ने गणेश गवादी इलाके में सोमवार को यह कार्रवाई की. पुलिस ने कारोबारी विनय साहू घर पर दबिश दी. इस दौरान आरोपी विनय साहू तम्बाकू उत्पादों की कालाबाजारी के साथ ही अवैध बेचान भी कर रहा था. पुलिस ने मौके से हजारों की तादाद में तम्बाकू के विभिन्न उत्पादों के अलग अलग ब्रांड के पैकेट जब्त किए हैं. इनकी कीमत करीब 10 लाख से अधिक बताई जा रही है. यह कीमत तो एमआरपी दर के हिसाब से है. कारोबारी लॉकडाउन के चलते एमआरपी दर से दुगनी कीमत पर इनका बेचान कर रहा था.

बिहार का रहने वाला है कारोबारी
कार्रवाई के दौरान पुलिस ने कारोबारी विनय साहू के पास से 6 लाख 97 हजार रुपये भी जब्त किए हैं. पुछताछ में सामने आया कि कारोबारी विनय साहू मूल रूप से बिहार का रहने वाला है और वह पिछले 20 साल से अजमेर में इस कारोबार से जुड़ा है. लॉकडाउन से पहले उसने बड़ी तादाद में तम्बाकू उत्पादों का भारी स्टॉक कर लिया था और बाद में महंगी दर पर बेचकर मोटा मुनाफा कमा रहा था. पुलिस ने आरोपी को लॉकडाउन उल्लंघन और प्रतिबंध वस्तु बिक्री करने के आरोप में गिरफ्तार किया है.



Lockdown: जयपुर के एसएमएस अस्पताल में इस फॉर्मूले से दूर की गई ब्लड की कमी

Rajasthan: प्रदेश की अदालतों में अब नहीं पूछी जाएगी जाति, HC ने जारी किए आदेश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज