वर्कशॉप की आड़ में चोरी की मोटरसाइकिल बेचने वाले गिरोह का पर्दाफाश, तीन गिरफ्तार
Ajmer News in Hindi

अजमेर पुलिस ने आज एक बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए वर्कशॉप की आड़ में चोरी की मोटरसाइकिल बेचने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया.

  • Share this:
अजमेर पुलिस ने आज एक बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए वर्कशॉप की आड़ में चोरी की मोटरसाइकिल बेचने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया. अलवर गेट थाना पुलिस ने इस मामले में गिरोह के तीन सदस्यों को भी गिरफ्तार किया है. एसपी कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि गिरोह के सदस्य पहले मोटरसाइकिल चोरी करते थे और फिर उनके नंबर और चेसिस संख्या बदलकर कम दामों में उन्हें फर्जी दस्तावेज बनाकर बेच दिया करते थे. गिरोह ने अपनी इन वारदातों को व्यवसाय की शक्ल देने के लिए दो अलग अलग जगहों पर वर्कशॉप भी बना रखे थे, जहां गाडियां ठीक करने का काम होता था.

एसपी ने कहा कि गिरोह जिन मोटरसाइकिल को बेच नहीं पाता था उनके पार्ट्स निकालकर उन्हें बेच दिया करता था. पुलिस ने अभी तक आरोपियों के कब्जे से 22 चोरी की मोटरसाइकिलें बरामद करने के साथ ही चोरी के कलपुर्जे बरामद किए हैं.

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि मामले में तीन चोरों की गिरफ्तारी हुई है. महावीर सिंह रावत आदर्शनगर क्षेत्र का जबकि कालू और ज्ञान सिंह बरड़िया गेगल क्षेत्र का रहनेवाला है. उन्होंने कहा कि गिरोह ने अभी तक 100 से ज्यादा वारदातें करना कबूला है. उन्होंने कहा कि पुलिस गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश कर रही है.



ये भी पढ़ें - ताबड़तोड़ बारिश ने महज दस दिन में बदल डाली प्रदेश की सूरत
ये भी पढ़ें - MLA राजेंद्र गुढ़ा के बयान के बाद BSP में गरमाई सियासत

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज