अजमेर लोकसभा सीट: सबसे धनी प्रत्याशी रिजु झुनझुनवाला और भागीरथ चौधरी में है मुकाबला
Ajmer News in Hindi

अजमेर लोकसभा सीट: सबसे धनी प्रत्याशी रिजु झुनझुनवाला और भागीरथ चौधरी में है मुकाबला
रिजु झुनझुनवाला और भागीरथ चौधरी.

लोकसभा चुनाव में राजस्थान के सबसे धनी प्रत्याशी कांग्रेस के रिजु झुनझुनवाला और बीजेपी के भागीरथ चौधरी के बीच अजमेर में सीधा मुकाबला है.

  • Share this:
राजस्थान की अजमेर लोकसभा सीट पर प्रदेश के सबसे धनी प्रत्याशी कांग्रेस के रिजु झुनझुनवाला और बीजेपी के भागीरथ चौधरी के बीच सीधा मुकाबला है. निर्वाचन विभाग को दिए संपत्ति का ब्योरे में रिजु की संपत्ति 80 करोड़ बताई गई है. यूं तो यहां से सात प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं, लेकिन मुख्य मुकाबला कांग्रेस और बीजेपी के बीच ही है. अब तक अजमेर लोकसभा सीट पर हुए 16 चुनावों में 9 बार नतीजे कांग्रेस के पक्ष में रहे हैं जबकि बीजेपी ने 6 बार यहां से बाजी जीती है.

ये भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव: 'सबसे बड़े सट्टा बाजार' में बीजेपी का पलड़ा भारी, गजेंद्र सिंह के भाव 60 पैसे

वर्तमान में अजमेर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में 8 विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं, इनमें जयपुर जिले का दूदू भी शामिल है. अन्य सात विधानसभा क्षेत्रों में किशनगढ़, पुष्कर, अजमेर नोर्थ, अजमेर साउथ, नसीराबाद, मसूदा और केकड़ी शामिल हैं. पूर्व में 1989 में पहली बार कांग्रेस के गोविंद सिंह को शिकस्त देकर बीजेपी के रासा सिंह रावत यहां से सांसद बने. इसेक बाद 1996 तक इस सीट पर रावत का कब्जा रहा. लगातार तीन बार चुनाव जीतने के बाद कांग्रेस की प्रभा ठाकुर ने 1998 में रावत को परास्त कर यहां से जीत हासिल की.



हालांकि अगले ही चुनाव में 1999 में फिर वापसी करते हुए रासा सिंह यहां से विजयी रहे और 2009 तक सांसद रहे. इसके बाद 2009 में सचिन पायलट इस सीट से जीतकर संसद पहुंचे लेकिन 2014 की मोदी लहर में सांवरलाल जाट ने बीजेपी के खाते में फिर से जीत दर्ज कराई.
सांवरलाल जाट निधन के बाद हुए उपचुनाव में बीजेपी ने संवरलाल जाट के बेटे रामस्वरूप लांबा को मैदान में उतारा लेकिन कांग्रेस के डॉ. रघु शर्मा ने जीत दर्ज की.

ये भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव: वैभव गहलोत की जीत के लिए पत्नी हिमांशी मांग रहीं दुआएं

कब कौन जीता, कौन हारा
1952 (अजमेर नोर्थ) जावाला प्रसाद (कांग्रेस) चांद करण ऑल इंडिया भारतीय जनसंघ
1952 (अजमेर साउथ) मुकट बिहारी लाल (कांग्रेस) कुमार आनंद सीपीआई
1957 मुकट बिहारी लाल (कांग्रेस) रामचंद दास (बीजेएस)
1962 मुकट बिहारी लाल (कांग्रेस) भगवान दाल (जेएस)
1967 वीएन भार्गव (कांग्रेस) एस शारदा (बीजेएस)
1971 बिश्वेशवर नाथ भार्गव (कांग्रेस) मुकट बिहारी लाल(एनसीओ)
1977 श्रीकरन शारदा (भारतीय लोक दल) बिश्वेशवर नाथ भार्गव (कांग्रेस)
1980 आचार्य भगवान देव (कांग्रेस) श्रीकरन शारदा (भारतीय लोक दल)
1984 विष्णू कुमार मोदी (कांग्रेस) कैलाश मेघवाल (भाजपा)
1989 रासा सिंह रावत (भाजपा) गोविंद सिंह (कांग्रेस)
1991 रासा सिंह रावत (भाजपा) जगदीप धानकर (कांग्रेस)
1996 रासा सिंह रावत (भाजपा) किशन मोटवानी (कांग्रेस)
1998 प्रभा ठाकुर (कांग्रेस) रासा सिंह रावत (भाजपा)
1999 रासा सिंह रावत (भाजपा) प्रभा ठाकुर (कांग्रेस)
2004 रासा सिंह रावत (भाजपा) हाजी हबिबुर्ररहमान (कांग्रेस)
2009 सचिन पायलट ( कांग्रेस) किरण माहेश्वरी ( भाजपा)
2014 सांवरलाल जाट (भाजपा) सचिन पायलट (कांग्रेस)

ये भी पढ़ें-

लोकसभा चुनाव: मतदान केंद्रों के 200 मीटर तक ये काम नहीं कर पाएंगे प्रत्याशी

ये भी पढ़ें- एक दुल्हन के अपहरण से शेखावाटी में मचा बवाल, जानें- क्या है पूरा मामला
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज