फायरिंग के साथ गूंजे 'कश्मीर हमारा है' के नारे, CCTV में कैद हुई हरकत

अजमेर के किशनगढ़ में सोमवार रात को कुछ लोगों ने 'कश्मीर हमारा है' के नारे लगाए और फायरिंग कर इलाके में दहशत पैदा करने की कोशिश की.

Abhijeet Dave | News18Hindi
Updated: August 6, 2019, 9:53 AM IST
फायरिंग के साथ गूंजे 'कश्मीर हमारा है' के नारे, CCTV में कैद हुई हरकत
कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद केंद्र की ओर से सभी राजस्थान को भी एडवाइजरी जारी की गई है. (फोटो- बीजेपी मुख्यालय पर आतिशबाजी.)
Abhijeet Dave
Abhijeet Dave | News18Hindi
Updated: August 6, 2019, 9:53 AM IST
जम्‍मू-कश्मीर को अनुच्छेद 370 के तहत मिलने वाले विशेषाधिकारों को हटाए जाने के बाद सोमवार को राजस्थान में भी जमकर जश्न मनाया गया. अजमेर के किशनगढ़ कस्बे में कुछ असामाजिक तत्वों के इसे लेकर हवाई फायरिंग करने से हड़कंप मच गया. इस दौरान उनके द्वारा 'कश्मीर हमारा है' के नारे भी लगाए गए. यह घटना मदनगंज थाना इलाके की है. पुलिस के मौके पर पहुंचने से पहले आरोपी वहां से फरार हो गए. हालांकि, वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में असमाजिक तत्वों की ये पूरी हरकत कैद हो गई.

फायरिंग की सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच शुरू कर दी. जानकारी के अनुसार, पुलिस को मौके से हथियारनुमा लोहे की वस्तु मिला है. जांच के दौरान एक सीसीटीवी कैमरे में स्कूटी और बाइक सवार कुछ लोग सिंधी कॉलोनी क्षेत्र में फायरिंग करते नजर आ रहे हैं. पुलिस के अनुसार हथियारनुमा वस्तु के साथ पटाखे चलाते हुए आरोपियों ने धमाके कर दहशत फैलाने की कोशिश की.

काफी देर तक लगाते रहे नारे

स्थानीय बीजेपी नेताओं और आरएसएस से जुड़े लोगों के अनुसार दहशत फैलाने वालों ने काफी देर तक 'कश्मीर हमारा है' नारेबाजी करते रहे. पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर केस दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है. उधर, जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने के बाद पश्चिमी राजस्थान में भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर सीमा सुरक्षा बल (BSF) को अलर्ट कर दिया गया है. वहीं, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भी सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखकर हालात के मद्देनजर अधिकतम अलर्ट रखने के निर्देश दिए हैं.

राजस्थान के नेताओं की प्रतिक्रिया

अनुच्छेद 370 के तहत मिलने वाले विशेषाधिकारों को हटाए जाने पर कांग्रेस पार्टी की लीक से हटकर राजस्थान की जाट नेता डॉ. ज्योति मिर्धा ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के फैसले का समर्थन किया है. नागौर लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी रहीं मिर्धा ने कहा कि राष्ट्र प्रथम है, विरोध के लिए विरोध का कोई अर्थ नहीं है. भारत की एकता के लिए उठाए गए साहसिक कदम के लिए सरकार को बधाई दें.

इस बीच, पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे ने केंद्र सरकार के जम्मू-कश्मीर पर लिए ऐतिहासिक निर्णय का स्वागत किया है. वसुंधरा ने गीता के श्लोक 'यदा यदा ही धर्मस्य ग्लानिर्भवति भारत। अभ्युत्थानमधर्मस्य तदात्मानं सृजाम्यहम्।' का स्मरण करते हुए कहा कि जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है, था और रहेगा.
First published: August 6, 2019, 8:14 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...