अपना शहर चुनें

States

Corona Vaccination: राजस्थान में 94 साल के डॉक्टर ने लगवाया कोरोना का टीका, बुजुर्गों के लिए कही ये बात

94 साल के डॉ. पीसी डांडिया एसएमएस मेडिकल कॉलेज में फिलहाल एमेरिटस प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं.
94 साल के डॉ. पीसी डांडिया एसएमएस मेडिकल कॉलेज में फिलहाल एमेरिटस प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं.

Corona Vaccination: देश में राजस्थान (Rajasthan) बना सिरमौर. वैक्सीनेशन के पहले ही दिन देश से सबसे बुजुर्ग ने लगवाया टीका. SMS हॉस्पिटल में कार्यरत 94 साल के डॉ.पीसी डांडिया ने दिया बड़ा संदेश.

  • Share this:
जयपुर. कोरोना वायरस वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) का शनिवार से देशभर में आगाज हो चुका है. मरुधरा में भी 167 सेन्टर्स पर कोरोना का टीका लोगों को लगाया गया. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot ) ने कोरोना वैक्सीनेशन का राज्यस्तरीय शुभारंभ किया. एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. सुधीर भंडारी (Dr. Sudhir Bhandari) ने एसएमएस अस्पताल में पहला टीका लगवाया. लेकिन 94 साल के बुजुर्ग डॉ.पीसी डांडिया ने टीका लगवाकर सभी को हैरत में डाल दिया.

वैक्सीनेशन के पहले ही दिन संभवत: देश के सबसे बुजुर्ग व्यक्ति के रूप में डॉ.पीसी डांडिया ने टीका लगवाया. टीका लगवाने के बाद न्यूज 18 राजस्थान से खास बातचीत में डॉ.पीसी डांडिया ने कहा कि मेडिकल कॉलेज में मेरा ऑफिस है और जो भी काम बताया जाता है, वो करता हूं. उन्होंने कहा कि टीका लगाकार मैं सभी लोगों को संदेश देना चाहता हूं कि मेरी उम्र के लोग भी वैक्सीन लगवा सकते हैं. उन्होंने कहा कि बुजुर्ग लोगों को कोरोना का खतरा ज्यादा होता है. ऐसे में टीका लगवा लेना बेहतर विकल्प है.





बेहतर ढंग से कोरोना पर काबू पाने का प्रयास किया है
प्रिसिंपल डॉ. भंडारी ने पहले दिन ही टीका लगवाने को लेकर कहा कि आज टीका लगवा लिया है. इससे पहले सीएम गहलोत से संवाद करते हुए डॉ.पीसी डांडिया ने सीएम गहलोत की जमकर ताऱीफ भी की. उन्होंने कहा कि इस कोरोना संकट के दौरान सीएम गहलोत के साथ नौ मीटिंग में रहा हूं. जिन्होंने बेहतर ढंग से कोरोना पर काबू पाने का प्रयास किया है.

कौन हैं डॉ.पीसी डांडिया 
94 साल के डॉ. पीसी डांडिया एसएमएस मेडिकल कॉलेज में फिलहाल एमेरिटस प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं. रिटायरमेंट से पहले फार्माकलॉजी से जुड़े हुए थे. लेकिन रिटायरमेंट के बाद भी एसएमएस मेडिकल कॉलेज में अब वे अपनी सेवाएं दे रहे हैं. डॉ. डांडिया पिछले 72 सालों से मेडिकल कॉलेज से जुड़े हुए हैं. उनके एसएमएस मेडिकल कॉलेज में रहते हुए 22 प्रिंसिपल रिटायर हो चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज