अपना शहर चुनें

States

राजस्थान बोर्ड: 10वीं के बाकी विषयों की परीक्षा के लिए छात्रों को करना होगा थोड़ा और इंतजार, जानें वजह

बोर्ड के अधिकतर परीक्षा केंद्रों को फिलहाल क्वारेंटिन सेन्टर बना दिया गया है. प्रवासी मजदूर इसमें रुके हुए हैं .
बोर्ड के अधिकतर परीक्षा केंद्रों को फिलहाल क्वारेंटिन सेन्टर बना दिया गया है. प्रवासी मजदूर इसमें रुके हुए हैं .

सूत्रों की माने तो राजस्थान बोर्ड (Rajasthan Board) पहले 12वीं की लंबित विषयों की परीक्षा कराने के मूड में है. इसके पीछे कई कारण हैं.

  • Share this:
अजमेर. बेशक सीबीएसई (CBSE) ने अपनी 10वीं और 12वीं की परीक्षा का टाइमटेबल जारी कर दिया हो लेकिन राजस्थान बोर्ड (Rajasthan Board) फिलहाल अपनी लंबित बोर्ड परीक्षाओं के दुबारा आयोजन को लेकर किसी तरह की जल्दबाजी में नहीं है. साथ ही राज्य सरकार से मिलने वाले निर्देशों की प्रतीक्षा में हैं. बोर्ड की 10वीं की परीक्षा में दो अहम विषयों की परीक्षा होना बाकी है तो वहीं 12वीं के तीनों संकायों में कई विषयों की. लेकिन फिलहाल, कोरोना (Corona) से निपटने के बीच के तमाम उपायों के साथ बोर्ड इन लंबित परीक्षाओं के दुबारा आयोजन को लेकर कोई जल्दबाजी नहीं कर रहा है.

सूत्रों की माने तो बोर्ड पहले 12वीं की लंबित विषयों की परीक्षा कराने के मूड में है. इसके पीछे कई कारण हैं, जिसमें प्रमुख यह कि 12वीं के विद्यार्थी को उच्च शिक्षा के लिए कॉलेज में दाखिले की दरकार है. इसके अलावा, मौजूदा कोरोना काल मे सोशल डिस्टेंसिंग की पालना भी 12वीं के पेपर कराने में ज्यादा आसानी के साथ कराई जा सकती है. 12वीं के जो विषय की परीक्षा अभी होना बाकी है उसमें छात्र संख्या 10वीं के मुकाबले काफी कम हैं.  ऐसे में बोर्ड उन सभी एहतियाती कदमों को उठा सकता है और उनका सफल परीक्षण भी कर सकता है.

केंद्रों को फिलहाल क्वारेंटिन सेन्टर बना दिया गया है
बोर्ड के अधिकतर परीक्षा केंद्रों को फिलहाल क्वारेंटिन सेन्टर बना दिया गया है. प्रवासी मजदूर इसमें रुके हुए हैं तो वहीं कई केंद्र फिलहाल कंटेन्मेंट जोन में है. ऐसे में बोर्ड के लिए ज्यादा आसानी 12वीं के लंबित विषयों की परीक्षा कराने में है. 10वीं की परीक्षा में सभी विषय कॉमन होते हैं और उसमें सारे पंजीकृत छात्र एक साथ बैठते हैं. लिहाजा, वहां व्यवस्था करना बोर्ड के लिए फिलहाल व्यवहारिक नहीं है. बोर्ड के आधिकारिक सूत्रों की माने तो बोर्ड सरकार से मिलने वाले निर्देशों की प्रतीक्षा में हैं. बोर्ड को परीक्षा कराने के लिए 15 दिन का समय चाहिए. बोर्ड के सभी प्रश्न पत्र पुलिस थानों, कोषालय और पुलिस लाइन में सुरक्षित रखे हुए हैं. लिहाजा, सरकार जब से निर्देश देगी बोर्ड परीक्षा के आयोजन के लिए तैयार है. लेकिन इतना जरूर तय है कि 10वीं के विद्यार्थियों को फिलहाल थोड़ा और इंतजार करना होगा.
ये भी पढ़ें- 



सिर कटी लाश मिलने पर सीमा विवाद में उलझी दो थाने की पुलिस,फिर क्या हुआ पढ़ें..

झारखंडः नम आंखों से राजेंद्र सिंह को विदाई, CM हेमंत बोले- खो दिया अभिभावक
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज