विधायक हेमाराम का इस्तीफा: राजस्थान कांग्रेस में फिर सामने आयी अंतर्कलह, गहलोत-पायलट खेमे में गरमायी राजनीति

पायलट खेमा मंत्रिमंडल विस्तार और राजनीतिक नियुक्तियों में हो रही देरी को लेकर खफा चल रहा है.

पायलट खेमा मंत्रिमंडल विस्तार और राजनीतिक नियुक्तियों में हो रही देरी को लेकर खफा चल रहा है.

Discord in Rajasthan Congress: कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक हेमाराम चौधरी के इस्तीफे से एक बार फिर गहलोत और पायलट खेमे (Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot) के बीच सियासत खुले तौर पर सामने आ सकती है.

  • Share this:

जयपुर. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पूर्व मंत्री एवं विधायक हेमाराम चौधरी (MLA Hemaram Chaudhary) के इस्तीफे से सूबे की सियासत का पारा एकाएक गरमा गया है. सचिन पायलट कैम्प (Sachin Pilot Camp)  के सिपाहसालर माने जाने वाले बाड़मेर के गुड़ामालानी विधानसभा क्षेत्र के विधायक हेमाराम चौधरी ने अपना इस्तीफा विधानसभा अध्यक्ष को भेज दिया है. इसे पार्टी में अंतर्कलह  (Discord in Congress) से जोड़कर देखा जा रहा है.

हेमाराम चौधरी लंबे समय से पार्टी से नाराज चल रहे थे. हेमाराम चौधरी के इस्तीफा देने से अब एक बार फिर से गहलोत और पायलट खेमे के बीच सियासत खुले तौर पर सामने आ सकती है. इसके बाद आने वाले दिनों में कई बड़ी राजनीतिक हलचलें देखने को मिल सकती हैं.

6 बार विधायक रहे हैं चौधरी

पायलट खेमा मंत्रिमंडल विस्तार और राजनीतिक नियुक्तियों में हो रही देरी को लेकर खफा चल रहा है. कई बार सरकार के खिलाफ बयानबाजी भी इनकी ओर से देखने को मिल रही है. हेमाराम चौधरी कद्दावर जाट नेता हैं. वे आठ बार विधानसभा का चुनाव लड़ चुके हैं और 6 बार विधायक रहे हैं. पिछली कांग्रेस सरकार में वे राजस्व मंत्री रहे हैं. उससे पहले भी वे नेता प्रतिपक्ष भी रह चुके हैं. पश्चिमी राजस्थान में चौधरी का खासा दबदबा माना जाता है.
राजस्थान की बड़ी खबर: पायलट गुट के वरिष्ठ विधायक हेमाराम चौधरी ने दिया इस्तीफा

विधायक हेमाराम का इस्तीफा: राजस्थान कांग्रेस में फिर सामने आयी अंतर्कलह, गहलोत-पायलट खेमे में गरमायी राजनीति Rajasthan News-Jaipur News-resignation of MLA Hemaram Chaudhary-internal discord in Congress, Gehlot-Pilot camp
विधायक हेमाराम चौधरी.

हेमाराम चौधरी कई बार जता चुके हैं नाराजगी



हेमाराम चौधरी सरकार के खिलाफ कई बार अपनी नाराजगी खुले तौर पर जाहिर कर चुके हैं. वे सरकार पर अपने क्षेत्र में विकास कार्यों में भेदभाव का आरोप लगाते रहे हैं. इसके साथ ही उन्होंने अपने क्षेत्र में अधिकारियों के मनमाने ट्रांसफर-पोस्टिंग को लेकर भी अपना विरोध जताया था. हेमाराम चौधरी की ताजा नाराजगी कम्यूनिटी हैल्थ ऑफिसर भर्ती से जोड़कर देखी जा रही है. बताया जा रहा है कि वे इसमें अपनी अनदेखी से नाराज थे और पिछले दिनों इसे लेकर कलेक्टर से भी मिले थे.

इट मार्क्स द स्टार्ट !

हेमाराम चौधरी के इस्तीफे के बाद राजस्थान में आगामी दिनों में बड़ी राजनीतिक हलचलों के कयास लगाए जा रहे हैं. कांग्रेस के ही विधायक और पूर्व मंत्री विश्वेन्द्र सिंह के पुत्र अनिरुद्ध सिंह ने हेमाराम चौधरी के इस्तीफा दिए जाने के बाद ट्वीट किया है 'इट मार्क्स द स्टार्ट ! ' अनिरुद्ध सिंह के इस ट्वीट के मायने हैं कि यह शुरुआत को दर्शाता है. यानि आगामी दिनों में बड़ी राजनीतिक उठापटक देखने को मिल सकती है. हालांकि कयास लगाए जा रहे हैं कि कांग्रेस अब मान मनौव्वल के जरिये हेमाराम चौधरी को मनाने के प्रयास करेगी. लेकिन विपक्ष आने वाले दिनों में इसे बड़ा राजनीतिक मुद्दा बनाएगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज