Home /News /rajasthan /

RSS प्रतिनिधि सभा: नागौर बनेगा चिंतन-मनन और मंथन का गढ़

RSS प्रतिनिधि सभा: नागौर बनेगा चिंतन-मनन और मंथन का गढ़

नागौर 5 मार्च से लेकर 15 मार्च तक चिंतन-मनन और मंथन का गढ़ बनेगा. यहां आरएसएस की राष्ट्रीय प्रतिनिधि सभा के सत्र होंगे.

नागौर 5 मार्च से लेकर 15 मार्च तक चिंतन-मनन और मंथन का गढ़ बनेगा. यहां आरएसएस की राष्ट्रीय प्रतिनिधि सभा के सत्र होंगे.

नागौर 5 मार्च से लेकर 15 मार्च तक चिंतन-मनन और मंथन का गढ़ बनेगा. यहां आरएसएस की राष्ट्रीय प्रतिनिधि सभा के सत्र होंगे.

नागौर 5 मार्च से लेकर 15 मार्च तक चिंतन-मनन और मंथन का गढ़ बनेगा. यहां आरएसएस की राष्ट्रीय प्रतिनिधि सभा के सत्र होंगे. दस दिन तक चलने वाले इस सत्र में तीन दिन बेहद महत्वपूर्ण होंगे.

सूत्रों के मानें तो 11 से लेकर 13 मार्च तक तीन दिन विशेष सत्र चलेंगे. इन सत्रों में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत सहित भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के पदाधिकारी एवं केंद्रीय नेतृत्व शामिल होगा.

आरएसएस के इस सत्र को लेकर चल रही तैयारियों की मंगलवार को विधिवत शुरूआत गणेश पूजा के साथ हो चुकी है.
शारदापुरम में जिस जगह पर आरएसएस के विशेष सत्र चलेंगे उस जगह की पूजा की गई और तैयारियां शुरू की गई हैं.

शारदापुरम क्षेत्र में सड़क-बिजली से लेकर हर छोटे-बड़े विकास कार्यों को जिला प्रशासन से लेकर नगर परिषद के अधिकारी बेहद गंभीरता से ले रहे हैं. यहां होने वाले इस कार्यक्रम में करीब 1300 लोग शामिल होंगे जो संघ एवं भाजपा से जुड़े हुए हैं.

आरएसएस के इस कार्यक्रम की तैयारियां जिले भर में चल रही हैं. जिले के हर छोटे-बड़े गांव में पिछले कई दिनों से पथ संचलन किए जा रहे हैं. हालांकि प्रतिनिधि सभा के सत्र को लेकर आरएसएस एवं भाजपा के स्थानीय कार्यकर्ता कुछ बताने से मना कर रहे हैं, लेकिन युद्ध स्तर पर चल रही तैयारियों से अंदाजा लगाया जा सकता है कि नागौर आरएसएस के चिंतन-मनन और मंथन का गढ़ बनेगा.

Tags: Ajmer news, Hindi news, Mohan bhagwat, Rajasthan news, RSS

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर