Unlock 1.0: राजस्थान बोर्ड 12वीं की 18 तो 10वीं की 29 जून से कराएगा परीक्षा
Ajmer News in Hindi

Unlock 1.0: राजस्थान बोर्ड 12वीं की 18 तो 10वीं की 29 जून से कराएगा परीक्षा
राजस्थान बोर्ड

लॉकडाउन (Lockdown) के चलते 2 महीने तक स्थगित रही राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं (Examinations) अब वापस से ही रही हैं. 18 जून से शुरू होने वाली इन परीक्षाओं के लिए रोडमैप तैयार किया जाएगा.

  • Share this:
अजमेर. राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Rajasthan Secondary Education Board) 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 18 जून से आयोजित करवा रहा है. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के चलते लॉकडाउन लागू किया गया और इससे परीक्षाएं दो महीने से लंबित पड़ी थीं. इन परीक्षाओं के लिए मंगलवार को रोडमैप तैयार होने की संभावना है. सीएम अशोक गहलोत ने पिछले दिनों शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में बोर्ड परीक्षाओं को जून महीने में करवाने के निर्देश दिए थे. निर्देश देने के 24 घंटे के अंदर ही बोर्ड ने परीक्षा कार्यक्रम जारी कर दिया था. बोर्ड की 12वीं के लंबित विषयों की परीक्षा 18 जून से शुरू हो रही है, तो वही 10वीं की 29 जून से शुरू होगी. ऐसे में बोर्ड अब इन परीक्षाओं के लिए रोडमैप तैयार करने जा रहा है.

कोरोना वायरस के संक्रमण के बीच कई चुनौतियां भी सामने खड़ी हैं, जिसमें सबसे बड़ी समस्या सबसे बड़ी सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेंन कर पाने की है. ऐसे हालात में बोर्ड छात्रों के हितों का धयान रखने में कोई चूक नहीं करना चाहता. इसी कारण मंगलवार और बुधवार को बोर्ड में प्रदेश के सभी जिलों के शिक्षा अधिकारियों की दो दिवसीय मैराथन बैठक चलेंगी. इन बैठकों में परीक्षा की व्यवस्था पर बात की जाएगी.

बैठक में शामिल होंगे 15 जिलों के शिक्षा अधिकारी
मंगलवार को करीब 15 जिलों के शिक्षा अधिकारी बोर्ड में अध्यक्ष डॉ डीपी जारोली के सामने अपने प्रस्ताव रखेंगे. बोर्ड ने पहले ही सभी डीईओ को निर्देश दिए थे कि वे अपने जिलों में नए परीक्षा केंद्रों के निर्धारण का प्रस्ताव बनाकर लाएं, क्योंकि कोरोना से निपटने के लिए कई परीक्षा केंद्रों को क्वारंटाइन सेंटर में तब्दील कर दिया गया था.



सोशल डिस्टेंसिंग का रखा जाएगा खयाल


इसके साथ-साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग की दृष्टि से भी बोर्ड को नए केंद्रों की जरूरत है, जिनमें दो गज की दूरी का पालन करवाया जा सके. इस बात की संभावनाएं दिख रही हैं कि नए परीक्षा केंद्रों के रूप में सामुदायिक भवन, कॉलेज का उपयोग हो. इसके लिए अतिरिक्त फर्नीचर और सुरक्षा के लिहाज से टेंट की जरूरत भी पद सकती है. बोर्ड इस अतिरिक्त खर्च को खुद वहन करेगा और साथ ही यह भी तय होगा कि नई व्यवस्था के चलते बोर्ड परीक्षाओं की संवेदनशीलता और सुरक्षा के साथ कोई समझौता न करें. बोर्ड इन तमाम बिंदुओं पर सभी जिला शिक्षा अधिकारियों के साथ पूरे दो दिन गहन चिंतन मनन करेगा और उसके बाद ही सभी तैयारियां की जा सकेंगी.

ये भी पढ़ें: शिक्षा अधिकारी ने गुरूजी को नाचने के दिए आदेश, बेतुका बता मंत्री ने रद्द कराए

Lockdown 5.0: जयपुर के वीरेन 70 दिनों से 600 कुत्तों-बंदरों को खिला रहे खाना
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading