Home /News /rajasthan /

कोरोना वैक्सीन लगाने पहुंची मेडिकल टीम, पिटारा खोलकर महिला बोली- कोबरा से डसवा दूंगी

कोरोना वैक्सीन लगाने पहुंची मेडिकल टीम, पिटारा खोलकर महिला बोली- कोबरा से डसवा दूंगी

अजमेर जिले के नागेलाव गांव में कोरोना वैक्सीन लगाने पहुंची चिकित्सा टीम को महिला ने कोबरा सांप से डराया

अजमेर जिले के नागेलाव गांव में कोरोना वैक्सीन लगाने पहुंची चिकित्सा टीम को महिला ने कोबरा सांप से डराया

Ajmer News: अजमेर जिले के नागेलाव गांव में कोरोना वैक्सीन लगाने पहुंचे मेडिकल टीम उस समय मुश्किल में आ गई जब एक महिला ने पिटारे में बंद कोबरा सांप को छोड़ने की धमकी दे दी. महिला सपेरन थी और वैक्सीन लगवाने के लिए तैयार नहीं थी. बाद में गांववालों के समझाने पर उसने वैक्सीन लगवाई.

अधिक पढ़ें ...

    अजमेर. जिले के नागेलाव गांव में एक महिला ने कोरोना वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) लगाने के लिए पहुंची टीम को सांप (Snack) दिखाकर डरा दिया. महिला सपेरन थी, जो वैक्सीन लगवाने के लिए तैयार नहीं थी. बार-बार टीम को सांप दिखाकर डरा रही थी. टीम के ऊपर सांप छोड़ने की धमकी भी दे रही थी.
    मामले की जानकारी जैसे ही बाकी ग्रामीणों को मिली, सभी मौके पर पहुंचे. फिर महिला को समझाया गया, तब जाकर वह वैक्सीन लगवाने के लिए तैयार हुई.

    चिकित्सा टीम पीसांगन उपखंड क्षेत्र के नागेलाव में डोर टू डोर कोरोना टीकाकरण करते हुए कालबेलियों के डेरों में पहुंची. वहां डेरे में मौजूद सपेरन कमलादेवी ने कोरोना वैक्सीन लगवाने से साफ इनकार किया. चिकित्सा टीम को पिटारे में बंद कोबरा सांप को बाहर निकालकर डराया. सपेरन बोली- वैक्सीन लगाई को सांप से डसवा दूंगी. इसके बाद चिकित्सा विभाग ने अन्य ग्रामीणों की मदद ली और उसे समझाया. काफी देर प्रयास करने के बाद वह वैक्सीन लगवाने को राजी हुई. इसके बाद वहां रहने वाले 20 लोगों का टीकाकरण किया गया.

    डोर टू डोर टीकाकरण किया जा रहा
    ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी घनश्याम मोयल ने बताया कि सरकार की मंशानुरूप ब्लॉक अंतर्गत टीकाकरण के शत-प्रतिशत लक्ष्य को हासिल करने के लिए डोर टू डोर टीकाकरण किया जा रहा है. इसके लिए पीएचसी नागेलाव में कार्यरत डॉ. चारु झा के निर्देशन में एएनएम किरण कोविड स्वास्थ्य सहायक नरेंद्र कुमार के अलावा आशा सहयोगिनी प्रीति चौहान और मंगलीदेवी चौधरी नागेलाव में कालबेलिया के डेरे पर पहुंचे थे. सपेरन को काफी देर तक समझाइश के बाद टीका लगाया जा सका.

    Tags: Ajmer news, Rajasthan news, Rajasthan news in hindi

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर