• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • अलवर गैंगरेप पर राहुल बोले- मेरे लिए यह राजनीतिक नहीं भावनात्मक मुद्दा

अलवर गैंगरेप पर राहुल बोले- मेरे लिए यह राजनीतिक नहीं भावनात्मक मुद्दा

राहुल गांधी। फाइल फोटो।

अलवर गैंगरेप की पीड़िता और उसके परिजनों से मिलने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी थानागाजी पहुंच गए हैं. सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट भी राहुल के साथ हैं.

  • Share this:
    अलवर गैंगरेप की पीड़िता और उसके परिजनों से मिलने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी  थानागाजी पहुंचे. पीड़िता से मुलाकात के बाद राहुल ने कहा,  ' मेरे लिए अलवर गैंगरेप का मुद्दा राजनीतिक नहीं बल्कि भावनात्मक मुद्दा है. राहुल ने प्रेस वार्ता के दौरान तमाम सवालों को टालते हुए कहा कि वह यहां राजनीति करने नहीं आए हैं.'  राहुल ने प्रेस कॉन्फ़्रेंस में कहा पीड़िता को न्याय को मिलेगा और दोषियों को सज़ा ज़रूर होगी.

    राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा 'हम इस मुद्दे की राजनीति नहीं करना चाहते. हम पीड़ितों को सरकारी नौकरी और दूसरी सुविधाएं देंगे.'

    इससे पहले राहुल को बुधवार को आना था, लेकिन दिल्ली में खराब मौसम के कारण उनके हेलिकॉप्टर को उड़ान भरने की अनुमति नहीं मिल पाई थी, लिहाजा उनका दौरा कैंसिल हो गया था. राहुल गांधी के साथ  सीएम अशोक गहलोत, डिप्टी सीएम सचिन पायलट, पार्टी के प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे और पूर्व केन्द्रीय मंत्री भंवर जितेंद्र सिंह भी हैं.

    अलवर गैंगरेप केस- वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी करते हैं ये काम

    राहुल गांधी सुबह करीब 10.15 बजे हेलीकॉप्टर से थानागाजी पहुंचे. वहां हेलीपैड पर कांग्रेस ने नेताओं ने उनकी अगवानी की. उसके बाद राहुल पीड़िता और उसके परिवार से मुलाकात करने के लिए उसके गांव रवाना हो गए. पीड़िता और उसके परिवार से मुलाकात के बाद संभवतया राहुल गांधी प्रेस कॉफ्रेंस करेंगे. मीडिया को पीड़िता के घर जाने की अनुमति नहीं दी गई है. उन्हें पीड़िता के घर से कुछ दूरी पर ही रोक दिया गया है. पीड़िता के गांव से करीब दो किलोमीटर दूरी पर हेलीपेड बनाया गया है. वहां एसपीजी समेत बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं.

    अलवर गैंगरेप केस का वीडियो फेसबुक पर अपलोड होने से मचा हड़कंप, मामला दर्ज

    प्रकरण को लेकर गरमाई हुई है राजनीति
    अलवर गैंगरेप प्रकरण को लेकर प्रदेश ही नहीं, बल्कि देशभर में राजनीति गरमाई हुई है. मामले के तूल पकड़ने के बाद और पुलिस की लापरवाही सामने आने पर थानागाजी थानाप्रभारी को सस्पेंड किया जा चुका है. वहीं पुलिस अधीक्षक राजीव पचार को भी हटाया जा चुका है. गैंगरेप के सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आ चुके हैं और 16 मई तक पुलिस रिमांड पर हैं.

    अलवर गैंगरेप केस- सभी आरोपी फिर से तीन दिन के पुलिस रिमांड पर

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज