दोनों पैरों से गुजरी ट्रेन, रात भर तड़पता रहा लेकिन बच गई जान

जयपुर-अलवर ट्रेन (Alwar to Jaipur Trains) से गिरने के बाद मार्केटिंग एग्जीक्यूटिव (marketing executive) प्रदीप कुमार के दोनों पैर कट गए लेकिन 'जांको राखे साइयां, मार सके ना कोई' कहावत चरितार्थ हुई और रात भर संघर्ष के बाद प्रदीप की जान बच गई.

Rajendra Prasad Sharma | News18 Rajasthan
Updated: August 18, 2019, 12:11 PM IST
दोनों पैरों से गुजरी ट्रेन, रात भर तड़पता रहा लेकिन बच गई जान
फोटो- अस्पताल में भर्ती प्रदीक कुमार.
Rajendra Prasad Sharma | News18 Rajasthan
Updated: August 18, 2019, 12:11 PM IST
राजस्थान के अलवर जिले में एक ट्रेन हादसे के बाद शुक्रवार को 'जाको राखे सांइया मार सके ना कोय' कहावत चरितार्थ हुई. रेलवे ट्रेक पर ट्रेन हादसे का शिकार हुआ युवक प्रदीप कुमार मौत के मुंह से निकल आया और उनकी जान बच गई. दरअलस, गुरुवार रात प्रदीप जयपुर से लौटते समय ट्रेन से नीचे गिर गया था और ट्रेन उसके ऊपर से गुजर गई. यह हादसा अलवर इटाराना ओवरब्रिज के समीप गुरुवार देर रात हुआ और इसमें उसके दोनों पैर कट गए. वह रातभर तड़पता रहा लेकिन आखिर उसकी जान बच गई. जीआरपी थाना पुलिस ने युवक को मौके से उठाकर एम्बुलेंस के माध्यम से अस्पताल पहुंचाया. फिलहाल प्रदीप का अस्पताल में इलाज चल रहा है और उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है.

ये भी पढ़ें- Viral Video: अलवर में बच्चा उठाने के आरोपी युवक की लात घूसों से पिटाई

ये भी पढ़ें- अलवर में एक और मॉब लिंचिंग, भीड़ की पिटाई का VIDEO वायरल

हार नहीं मानी, जीवन के लिए संघर्ष करता रहा

ट्रेन से गिरने के बाद प्रदीप के दोनों पैर कट गए लेकिन उसका जीवन से संघर्ष जारी रहा. दोनो पैर कटने के बाद भी युवक ने अपनी जिंदगी की हार नहीं मानी और पूरी रात पटरियों के पास पड़ा रहकर संघर्ष करता रहा. युवक ने अपने जीवन में कभी कल्पना भी नहीं की थी में ट्रेन से गिर जाऊंगा और गिरने पर मेरे दोनों पैर ट्रेन से कट जाएंगे लेकिन ईश्वर पर विश्वास नहीं छोड़ा औार संघर्ष करता रहा.

ये भी पढ़ें- मॉब लिंचिंग: दलित समाज की अलवर हाईवे जाम करने की चेतावनी

अब सबसे बड़ी चिंता रोजगार का संकट
Loading...

अब युवक के दोनों पैर ट्रेन से कटने के कारण उसके लिए रोटी रोजी का संकट खड़ा हो गया है. पहले वह किसी का मोहताज नहीं था लेकिन अब वह दूसरों के सहारे का मोहताज हो गया. जानकारी के अनुसार युवक प्रदीप जयपुर मार्केटिंग के काम से गया था और वापस रेवाड़ी जा रहा था. अचानक अलवर में इटाराना ओवरब्रिज के समीप ट्रेन से निचे गिर गया. प्रदीप के परिजनों के अनुसार मार्केटिंग का काम करने वाला प्रदीप की जिंदगी तो बच गई लेकिन उसके सामने सबसे बड़ी समस्या रोजगार की खड़ी हो गई है.

ये भी पढ़ें- Flood In Rajasthan: कोटा की तस्वीरों में देखें बाढ़ के हालात
First published: August 16, 2019, 2:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...