अपना शहर चुनें

States

अलवर मॉब लिंचिंग केस में 7 आरोपी गिरफ्तार, अन्य की तलाश में जुटी पुलिस

मॉब लिंचिंग और गो तस्करी की घटनाओं को लेकर अलवर जिला देशभर में खासा बदनाम हो चुका है. पकड़े गए आरोपी। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान । फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
मॉब लिंचिंग और गो तस्करी की घटनाओं को लेकर अलवर जिला देशभर में खासा बदनाम हो चुका है. पकड़े गए आरोपी। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान । फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

अलवर (Alwar) जिले के शाहजहांपुर थाना इलाके में दो दिन पहले मॉब लिंचिंग (mob lynching) की घटना को अंजाम देने वाले आरोपियों (accused) में से 7 को पुलिस ने गिरफ्तार (arrested) कर लिया है. पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ (investigation) शुरू कर दी है. वहीं अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है.

  • Share this:
अलवर. राजस्थान के अलवर जिले के शाहजहांपुर थाना क्षेत्र में दो दिन पहले मॉब लिंचिंग (Mob Lynching) की घटना को अंजाम देने वाले आरोपियों (Accused) में से 7 को पुलिस ने गिरफ्तार (arrested) कर लिया है. पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ (Investigation) शुरू कर दी है. साथ ही वो फ़रार अन्य आरोपियों की तलाश कर रही है. पुलिस ने मॉब लिंचिंग के शिकार हुए मुनफेद खान (Munafed Khan) के खिलाफ भी गोतस्करी का मामला (Cow Smuggling Case) दर्ज किया है.

इन आरोपियों को पुलिस ने पकड़ा
पुलिस के अनुसार गिरफ्तार आरोपियों में अभय सिंह, वीरेंद्र, करण सिंह, फूल सिंह, रतन सिंह, हवा सिंह और इंद्राज सिंह के नाम शामिल हैं. इन पर आरोप है कि इन्होंने रविवार रात को खुसा की ढाणी गांव में गोतस्कर मुनफेद खान को पकड़कर उसके साथ मारपीट की थी. मुनफेद कोटपुतली से गायों को पिकअप गाड़ी में भरकर हरियाणा लेकर जा रहा था. इस दौरान आरोपियों ने उसे रोक कर उसकी गाड़ी में भी तोड़फोड़ कर दी थी. मारपीट में मुनफेद के गंभीर चोट आई हैं. उसका अस्पताल में इलाज चल रहा है.

मॉब लिंचिंग घटनाओं के लिए बदनाम हो चुका है अलवर
बता दें कि मॉब लिंचिंग और गो तस्करी की घटनाओं को लेकर अलवर जिला देशभर में खासा बदनाम हो चुका है. यहां आए दिन गोतस्करी के केस सामने आते रहते हैं. गोतस्करी रोकने में जुटी पुलिस की कई बार अलवर और उससे सटे भरतपुर जिले में गोतस्करों से भिड़ंत हो चुकी है. इन जगहों पर गोतस्करों और पुलिस के बीच फायरिंग भी बात आम हो गई है.



ढाई साल में आधा दर्जन लोग भीड़ के हत्थे चढ़े
अलवर में बीते लगभग ढाई साल में भीड़ गोतस्करी के शक में आधा दर्जन से ज्यादा लोगों को अपना शिकार बना चुकी है. इनमें से तीन लोगों की मॉब लिंचिंग में मौत हो गई. अलवर का पहलू खान मॉब लिचिंग केस देशभर में काफी चर्चित रहा था. उसके बाद भी जिले में मॉब लिंचिंग के केस लगातार बढ़ते गए.

ये भी पढ़ें:

अलवर में फिर मॉब लिंचिंग, गो तस्‍करी के शक में भीड़ ने शख्‍स को जमकर पीटा

अलवर में मॉब लिंचिंग: पहलू खान से लेकर मुनफेद तक जारी है भीड़ का कहर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज