किसी को पिटाई के बाद गोली मारी, किसी को पिट-पिटकर मार डाला, पढ़ें- राजस्थान में मॉब लिंचिंग के 5 बड़े मामले
Alwar News in Hindi

किसी को पिटाई के बाद गोली मारी, किसी को पिट-पिटकर मार डाला, पढ़ें- राजस्थान में मॉब लिंचिंग के 5 बड़े मामले
पिछले दो साल में राजस्थान के अलवर-भरतपुर के मेवात इलाके में सगीर खान मॉब लिंचिंग जैसी 5 वारदातें हुई हैं.

पिछले दो साल में राजस्थान के अलवर-भरतपुर के मेवात इलाके में सगीर खान मॉब लिंचिंग जैसी 5 वारदातें हुई हैं जिनके चलते देश-दुनिया में राजस्थान की छवि खराब हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 4, 2019, 3:07 PM IST
  • Share this:
राजस्थान के अलवर और भरतपुर के मेवात इलाके पर गौ तस्करी और मॉब लिचिंग की घटनाओं ने बदनामी का ऐसा दाग लगाया है जिसे कोई भी सरकार मिटाने में सफल नहीं हो पाई है. प्रदेश की पिछली बीजेपी सरकार में यहां पहलू खां और रकबर समेत मॉब लिंचिंग की चार बड़ी घटनाएं हुई तो कांग्रेस की नई गहलोत सरकार में भी हाल ही सगीर खान का मामला सामने आया है. पिछले दो साल में यहां ऐसी 5 वारदातें हुई हैं जिनके चलते देश-दुनिया में राजस्थान की छवि खराब हुई है.

ये भी पढ़ें- कांग्रेस MLA का विवादास्पद VIDEO वायरल, राजपूतों का भी जिक्र

अलवर में 2 साल के भीतर मॉब लिंचिंग की 5 बड़ी घटनाएं


पहली वारदात: 3 अप्रेल 2017- पहलू खां की मौत



3 अप्रेल 2017 को अलवर जिले के बहरोड़ में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या आठ पर शाम के वक्त जागुवास चौक औद्योगिक क्रॉसिंग पर हुई घटना को भुलाया नहीं जा सकता. वहां गोरक्षा दल और अन्य हिन्दूवादी संगठन के लोगों ने सैकड़ों लोगों के साथ गोतस्करी के आरोप में 6 वाहनों को रोककर 15 गोतस्करों के साथ मारपीट कर उन्हें पुलिस के हवाले कर दिया था. मारपीट में गंभीर रूप से घायल पांच जनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनमें से मेवात जिले के नूंह के जयसिंहपुर निवासी 50 वर्षीय पहलू खां की 5 अप्रेल को निजी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी.



दूसरी वारदात: 9 नवंबर, 2017- उमर खान की हत्या

दूसरा बड़ा मामला 9 नवंबर, 2017 की रात को गोविंदगढ़ थाना इलाके में सामने आया था. कथित गोरक्षकों ने उमर खान की पिटाई के बाद गोली मारकर उसकी हत्या कर दी थी. बाद में शव को रेलवे पटरी पर डाल दिया था. पुलिस ने शव को मर्चरी में रखवा दिया था. तीन दिन बाद परिजनों के आने के बाद घटना का खुलासा हुआ अन्यथा पुलिस मामले को दबाकर बैठे हुए थी.

तीसरी वारदात: 23 दिसम्बर 2017- जाकिर खान पर जानलेवा हमला

तीसरा बड़ा मामला अलवर जिले के रामगढ़ थाना क्षेत्र में 23 दिसम्बर 2017 को सामने आया. रामगढ़ थाना इलाके में एक बार फिर गाय ले जा रहे एक युवक की 40-50 लोगों ने पिटाई कर दी. गोरक्षा के नाम पर कथित गोरक्षकों ने उसकी जमकर पिटाई की, लेकिन गनीमत यह रही पुलिस समय पर पहुंच गई. अन्यथा उसकी पीट पीटकर हत्या कर दी जाती. पिटाई के बाद गंभीर हालत में युवक जाकिर खान को पुलिस ने अस्पताल में भर्ती करवाया था. जाकिर अपने तीन साथियों के साथ अलवर जिले के बानसूर क्षेत्र से गाय लेकर हरियाणा जा रहा था.

चौथी वारदात: 20 जुलाई 2018- अकबर उर्फ रकबर की मौत

पिछले साल जुलाई की 20 तारीख, शुक्रवार रात को अलवर के रामगढ़ इलाके में गौ तस्करी के शक में भीड़ ने अकबर उर्फ रकबर पर हमला बोल दिया था. बाद में अकबर की मौत हो गई थी. घटना के अगले दिन इस पूरे मामले में पुलिस की भूमिका और उसकी कार्रवाई पर सवाल उठने लग गए थे. इस मामले में मारपीट के बाद मौत के शिकार हुए अकबर उर्फ रकबर खान को अस्पताल ले जाने में देरी के आरोप में एक सहायक पुलिस उप निरीक्षक को निलंबित और तीन पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया गया.

पांचवीं वारदात: 29 दिसंबर 2018 को सगीर खान की पिटाई

सगीर और उसका साथी 29 दिसंबर की रात को गायों से भरी पिकअप वाहन लेकर आ रहा था. इस दौरान साइड देने को लेकर कार सवारों से उसका झगड़ा हो गया था. इसके बाद ग्रामीणों ने गौतस्कर के आरोप में सगीर की पिटाई कर दी थी. इस दौरान उसका साथी मुस्ताक मौके से फरार हो गया था. सगीर के साथ मारपीट की सूचना के बाद किशनगढ़ थाना पुलिस मौके पर पहुंची और घायल सगीर को अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. जहां से उसे जयपुर से एसएमएस अस्पताल रेफर किया गया. पुलिस इस मामले में करीब पांच लोगों को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार किया था. पुलिस ने मारपीट के जिन 5 आरोपी लोगों को गिरफ्तार किया था उनमें से तीन को जमानत मिल चुकी है. उधर, पुलिस ने 3 जनवरी को 23 वर्षीय सगीर खान को किशनगढ़ पुलिस ने गौतस्करी के आरोप में गिरफ्तार कर लिया. पुलिस की गिरफ्तारी के बाद ट्रायल कोर्ट ने सगीर को 15 जनवरी तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेजा है.

ये भी पढ़ें- भीड़ से पिटे सगीर पर गौतस्करी का आरोप, कोर्ट ने 15 तक हिरासत में भेजा

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading