Alwar: किसान सभा में जा रहे राकेश टिकैत के काफिले पर हमला, कार के शीशे तोड़े, स्याही फेंकी

शुक्रवार को अलवर में किसान सभा में जा रहे राकेश टिकैत के काफिले पर पथराव की घटना सामने आई थी

शुक्रवार को अलवर में किसान सभा में जा रहे राकेश टिकैत के काफिले पर पथराव की घटना सामने आई थी

Kisan Neta Rakesh Tikait: किसान नेता राकेश टिकैत के काफिले पर शुक्रवार को राजस्थान के अलवर में भीड़ ने पथराव किया है. इस हमले में टिकैत की कार के शीशे टूट गये हैं. हमला ततारपुर में उस समय हुआ, जब राकेश टिकैत बानसूर में किसान सभा को संबोधित करने जा रहे थे.

  • Share this:
अलवर. किसान आंदोलन के अगुवा नेता राकेश टिकैत के काफिले पर शुक्रवार को राजस्थान में भीड़ ने हमला कर दिया. यह हमला तब हुआ जब टिकैत अलवर के हरसौरा में सभा को संबोधित कर बानसूर जा रहे थे. इसी बीच ततारपुर में भीड़ ने टिकैत के काफिले पर पथराव शुरू कर दिया. पथराव में टिकैत की कार के शीशे टूट गये. इस दौरान असामाजिक तत्वों ने टिकैत पर स्याही भी फेंकी. वहीं इस मामले में अलवर की मत्स्य युनिवर्सिटी के छात्रसंघ अध्यक्ष कुलदीप यादव समेत चार को पुलिस ने हिरासत में लिया है.

हालांकि समय रहते पुलिस ने हालात पर काबू करते हुये सुरक्षा घेरे में टिकैत काे वहां से निकाल लिया. पुलिस सुरक्षा के बीच ही टिकैत को वहां से बानसूर पहुंचाया गया है. राकेश टिकैत ने खुद सोशल मीडिया पर उनकी कार पर हुए हमले के बारे में लिखा है कि, "राजस्थान के अलवर जिले के ततारपुर चौराहा, बानसूर रोड़ पर भाजपा के गुंडों द्वारा जानलेवा पर हमला किए गए, लोकतंत्र के हत्या की तस्वीरें." उनकी इस पोस्ट लगातार लोग गुस्सा जाहिर कर रहे हैं. साथ ही राजस्थान में विपक्षी दल भाजपा पर आरोप लगा रहे हैं.



राकेश टिकैत पर हुये इस हमले को लेकर किसान आंदोलन के मंच से बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया गया है. किसान नेताओं ने इस हमले पर प्रतिक्रिया देते हुये बानसूर की किसान सभा के मंच से कहा कि हम ईंट का जवाब पत्थर से देंगे. हमले के बाद किसानों ने रोड पर जाम लगा दिया और कार्रवाई की मांग करने लगे. किसान नेताओं ने बीजेपी पर इस हमले का आरोप लगाते हुये कहा गया कि राजस्थान में भी बीजेपी की हालत हरियाणा और पंजाब जैसी की जाएगी. इससे पहले राकेश टिकैत ने आज ही अलवर में ही हरसोली में किसान सभा को संबोधित किया था. बता दें कि किसान नेता राकेश टिकैत राजस्थान में किसान सभाएं कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज