बड़ी खबरः अब बिना Corona नेगेटिव रिपोर्ट के राजस्‍थान में एंट्री बंद, बरती जा रही है सख्ती

राजस्‍थान में पिछले 24 घंटे के दौरान 1729 नए मामले सामने आए हैं. (सांकेतिक फोटो)

राजस्‍थान में पिछले 24 घंटे के दौरान 1729 नए मामले सामने आए हैं. (सांकेतिक फोटो)

सख्ती बढ़ी, अब 72 घंटे के अंदर की नेगेटिव रिपोर्ट दिखाने पर ही मिलेगी राजस्‍थान में एंट्री, CM अशोक गहलोत के निर्देशों के बाद वाहनों की हो रही गहन जांच.

  • Share this:
अलवर. कोरोना (Corona) के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब हरियाणा और दिल्ली से राजस्‍थान में प्रवेश करने वालों को कोविड जांच की नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना जरूरी होगा. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए हैं. इसको देखते हुए बॉर्डर पर सख्ती बरती जा रही है. निर्देशों के अनुसार हरियाणा बॉर्डर पर 72 घंटे की नेगेटिव कोरोना रिपोर्ट लानी जरूरी होगी नहीं तो प्रवेश नहीं मिलेगा. इसको देखते हुए बाहरी वाहनों की सघन जांच हो रही है. बिना रिपोर्ट के आने वाले यात्रियों के वाहनों को वापस भेज दिया जाएगा.

वहीं भारी और मालवाहक वाहनों को राजस्‍थान में एंट्री दी जा रही है. इस दौरान शाहजहांपुर बॉर्डर पर कोविड चेक पोस्ट पर वाहनों को रोक रोक कर चैकिंग की जा रही है.

रिकॉर्ड मामले आए सामने

राजस्‍थान में पिछले 24 घंटे के दौरान 1729 नए मामले सामने आए हैं. इनमें से जयपुर में 258, अजमेर में 96 ,अलवर में 38, बांसवाड़ा में 31, बारां में 20, बाड़मेर में 11, भरतपुर में 14, भीलवाड़ा 96, बीकानेर में 39, बूंदी में 15, चित्तौड़गढ़ में 68, दौसा में 1, चूरू में 1,धौलपुर में 9, डूंगरपुर में 85, गंगानगर में 27, हनुमानगढ़ में 35, जैसलमेर में 6, जालोर में 12, झालावाड़ में 32, झुंझुनू में 13, जोधपुर में 194, करौली में 16 ,कोटा में 225, नागौर में 25, पाली में 48, प्रतापगढ़ में 11, राजसमंद में 52, सवाईमाधोपुर में 16, सीकर में 7, सिरोही में 83, टोंक में 8, उदयपुर में 137 नए मामले सामने आए हैं. वहीं कोरोना संक्रमण के चलते पिछले 24 घंटे में दो लोगों ने दम तोड़ दिया है. गौरतलब है कि प्रदेश में एक्टिव कोरोना मरीजों की संख्या फिलहाल 12878 है.
इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि राज्य सरकार एक-दो दिन में नई गाइडलाइन जारी करेगी जिसमें अगले 15 दिन के लिए सख्त निर्णय लिए जाएंगे. कोरोना के बढ़ते मामलों पर मुख्यमंत्री ने शनिवार रात विशेषज्ञों, चिकित्सकों और अफसरों के साथ लाइव समीक्षा की. बैठक में सीएम ने कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जताई और प्रदेश में सख्ती बढ़ाने के संकेत दिए. गहलोत ने कहा कि संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सख्त कदम उठाए जाना जरूरी है और केंद्र को भी इसमें आगे आना चाहिए.

इसके अलावा सीएम गहलोत ने कहा कि लोगों में अनुशासन लाने के लिए जरूरी है कि केंद्र सरकार एसओपी जारी करे. राज्य सरकार इसे लेकर केंद्र सरकार से बात करेगी. सीएम ने कहा कि केंद्र अगर पहल करता है तो अच्छा है वरना मजबूर होकर हमें ही एसओपी जारी करनी पड़ेगी. नई एसओपी को लेकर एक-दो दिन में निर्णय ले लिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज