लाइव टीवी

Corona Virus: चीन से आए दो युवकों को आइसोलेशन पर रखे बगैर ही घर जाने की दी इजाजत
Alwar News in Hindi

Rajendra Prasad Sharma | News18 Rajasthan
Updated: February 2, 2020, 5:00 PM IST
Corona Virus: चीन से आए दो युवकों को आइसोलेशन पर रखे बगैर ही घर जाने की दी इजाजत
चीन से लौटे दोनों छात्रों को अस्पताल प्रशासन ने संपूर्ण जांच के बाद दोनों को छुट्टी दे दी.

अलवर के राजीव गांधी अस्पताल (Rajeev Gandhi Hospital) में भर्ती कोरोना वायरस (Corona Virus) से प्रभावित चीन से आए दो युवकों को भर्ती किया गया था. चीन से लौटे दोनों छात्रों को अस्पताल प्रशासन ने संपूर्ण जांच के बाद दोनों को छुट्टी दे दी. अब सवाल यह उठ रहा है कि 14 दिन ऑब्जर्वेशन में रखे बिना दोनों छात्रों को कैसे घर भेज दिया गया है.

  • Share this:
अलवर. अलवर के राजीव गांधी अस्पताल (Rajeev Gandhi Hospital) में भर्ती कोरोना वायरस (Corona Virus)  से प्रभावित चीन से आए दो युवकों को भर्ती किया गया था. चीन से लौटे दोनों छात्रों को अस्पताल प्रशासन ने संपूर्ण जांच के बाद दोनों को छुट्टी दे दी. अब सवाल यह उठ रहा है कि 14 दिन ऑब्जर्वेशन में रखे बिना दोनों छात्रों को कैसे घर भेज दिया गया है. चीन से लौटे दोनों छात्रों को अस्पताल प्रशासन ने संपूर्ण जांच के बाद दोनों को छुट्टी दे दी. अब सवाल यह उठ रहा है कि 14 दिन ऑब्जर्वेशन में रखे बिना दोनों छात्रों को कैसे घर भेज दिया गया है. गाइड लाइन के अनुसार चीन (China) से आए लोगों को 14 दिन तक डॉक्टरों की निगरानी में आइसोलेशन वार्ड में भर्ती रख कर निगरानी रखनी चहिए थी.

डॉक्टरों ने होम आइसोलेश की गाइडलाइन जारी की

डॉक्टरों ने होम आइसोलेशन की गाइडलाइन जारी की है और कहा है कि वह 14 दिन तक प्रतिदिन अपनी रिपोर्ट जिला अस्पताल को देंगे. अतिरिक्त जिला कलेक्टर प्रथम राम चरण शर्मा ने बताया कि किशनगढ़ बास के गूगलहेडी गांव निवासी प्रदीप और अलवर के दिवाकरी सूर्य नगर निवासी कमल सिंह 30 जनवरी को चीन से भारत आए थे और अपने गांव आए थे. प्रदीप यादव चीन में रहकर मेडिकल की पढ़ाई कर रहा है. वहीं कमल सिंह चीन में एमए की पढ़ाई कर रहा है. उन दोनों का चेकअप किया गया था. परिजनों ने कहा कि डॉक्टरों ने उनका चेकअप करके छोड़ा है और वे स्वस्थ हैं.

दोनों में नहीं मिले कोरोना वायरस के लक्षण

जिला प्रशासन व जिला अस्पताल प्रशासन ने संपूर्ण जांच करने के बाद उन दोनों को छुट्टी दे दी है. उन्होंने बताया कि राज्य सरकार और केंद्र सरकार द्वारा कोरोना वायरस से निपटने के पूरे बंदोबस्त किए गए हैं. इधर चिकित्सा विशेषज्ञ डॉ. अशोक महावर ने बताया कि दोनों छात्रों की जांच की गई है. ब्लड सैंपल ले लिए गए हैं और किसी भी तरीके की कोरोना वायरस के लक्षण नहीं मिले हैं और यही वजह है कि इन्हें होम आइसोलेशन की सलाह दी गई है. यह घर में मास्क लगा कर रखेंगे और सेपरेट रूम में रहेंगे और 14 दिन प्रतिदिन जिला अस्पताल को अपनी रिपोर्ट देते रहेंगे।.

दोनों चीन से 30 जनवरी को आए अलवर

इधर अलवर निवासी छात्र कमल सिंह ने बताया कि 30 तारीख को चीन से अलवर आए थे. इनकी कई स्थानों पर स्क्रीनिंग की गई थी. इनकी रिपोर्ट नॉर्मल आई थी. इनके सैंपल लिए गए हैं और अभी तक किसी भी तरीके के लक्षण नहीं मिले हैं. अलवर में भी ब्लड सैंपल लिए गए हैं. परिजनों ने उन्हें घर पर रखने के लिए जिला प्रशासन से आग्रह किया, जिस पर जिला अस्पताल में जांच करने के बाद उन्हें छुट्टी दे दी. छात्र कमल ने बताया कि उनकी यूनिवर्सिटी में भारत के 3 छात्र थे और तीनों ही 30 तारीख को भारत आ गए.यह भी पढ़ें:  Corona Virus: चीन से एयरलिफ्ट कराए गए भारतीयों को अलवर लाया जाएगा

इस शख्स को सड़क किनारे मृत मिला युवक, बेटा समझ अस्पताल लेकर भागा, फिर हुआ ये...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अलवर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 2, 2020, 5:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर