लाइव टीवी

सूदखोरों से तंग आकर युवक ने की आत्महत्या, 87 हजार कर्ज पर 3.54 लाख की थी देनदारी

Rajendra Prasad Sharma | News18 Rajasthan
Updated: December 6, 2019, 4:47 PM IST
सूदखोरों से तंग आकर युवक ने की आत्महत्या, 87 हजार कर्ज पर 3.54 लाख की थी देनदारी
अलवर में 38 वर्षीय हेमनदास ने सूदखोरों की प्रताड़ना से तंग आकर सुसाइड कर लिया है.

अलवर जिले के किशनगढ़बास कस्बे के अहमदबास मोहल्ले में रहने वाले एक 38 वर्षीय व्यक्ति ने सूदखोरों (Money lender) के आतंक ओर प्रताड़ना (Torcher) से परेशान होकर सुसाइड (Suicide) कर लिया है. परिजनों ने बताया कि उसने 8 माह पहले अलग-अलग लोगों से करीब 87 हजार रुपए ब्याज पर लिए थे. सूदखोरों ने उस पर करीब 3.54 लाख रुपए बकाया निकाल रखे थे.

  • Share this:
अलवर. राजस्थान में अलवर जिले (Alwar District) के किशनगढ़बास कस्बे के अहमदबास मोहल्ले में रहने वाले एक 38 वर्षीय व्यक्ति ने सूदखोरों (Money lender) के आतंक ओर प्रताड़ना से परेशान होकर सुसाइड (Suicide) कर लिया है. मृतक हेमनदास की पत्नी राखी सिंधी शुक्रवार को अपने तीनों बेटों के साथ किशनगढ़बास थाने पहुंच गई और आरोपियों की गिरफ्तारी (Arrest) की मांग की. मृतक की पत्नी ने गुरूवार कल 7 सूदखोरो के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था, जिनमें दो महिलाएं भी शामिल हैं. गौरतलब है कि सूदखोरों से परेशान होकर हेमनदास ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली. मृतक के परिजनों ने बताया कि उसने 8 माह पहले अलग-अलग लोगों से करीब 87 हजार रुपए ब्याज पर लिए थे. सूदखोरों ने उस पर करीब 3.54 लाख रुपए बकाया निकाल रखे थे. चुकाने के लिए उसने मकान भी बेच दिया था. फिलहाल वह सिंघाड़े की ठेली लगाने का काम करता था. सूदखोरों ने हेमनदास पर 900 रुपये रोज की पैनल्टी भी लगा रखी थी.

मृतक की पत्नी ने की आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग

अहमदबास निवासी हेमनदास सिंधी की पत्नी राखी ने बताया कि वह कल अपने पीहर जयपुर गई थी. वहां सूचना मिली कि पति हेमनदास ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली है. मृतक की पत्नी ने कविता पत्नी हुंदल, दिनेश ग्वारियां पुत्र रोहतास, घनश्याम खटीक पुत्र हरदयाल, राखी पत्नी कल्याण, गोलू तेजवानी पुत्र राजकुमार, निवासी अहमदबास, किशन गुर्जर पुत्र मुंशी निवासी कुम्हारवाटी, राजेश पुत्र भीखाराम निवासी शिव कॉलोनी के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था. घटना के 24 घंटे बाद भी पुलिस ने एक भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया है. मृतका की पत्नी ने आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी की मांग की है.

मृतक ने सूद के तौर पर 54 हजार चुका दिए थे

मृतक हेमनदास की पत्नी राखी ने बताया कि उसके पति ने आरोपी कविता से 20 हजार रुपए 3-4 माह पहले ब्याज पर लिए थे. वह पहले दिन से 200 रुपए रोज ब्याज ले रही है. उन्होंने बताया कि आरोपी दिनेश से 50 हजार रुपए लिए थे. इस पर दिनेश ने 500 रुपए रोज का ब्याज लगा रखा था. इसी तरह राजेश से 17 हजार रुपए करीब डेढ़ माह पहले लिया और वह 200 रुपए प्रतिदिन ब्याज मांग रहा था. एक भी दिन पैसा नहीं चुकाने पर पैनल्टी लगा देते थे.



मृतक ​के तीनों बच्चे कम उम्र के हैंराखी ने बताया कि मेरे पति ने करीब 87 हजार रुपए कर्ज लिया था और करीब 54 हजार रुपये ब्याज दे चुके थे. इसके बावजूद 3.54 लाख रुपये की रकम बाकी थी. हेमनदास सिंघाड़े की ठेली लगाता था और रोजाना की कमाई से कई गुना ब्याज देेते-देते परिवार कंगाल हो गया. इसके चलते उसका मानसिक संतुलन भी बिगड़ चुका था. गुरुवार को हेमनदास ने जहर खा लिया था. हेमनदास के 3 लड़के हैं, जिनकी उम्र 4—11 साल के बीच है.

यह भी पढ़ें: हैदराबाद गैंगरेप: आरोपियों के एनकाउंटर पर बोले CM अशोक गहलोत-'न्यायसंगत काम होना चाहिए था'

चूरू में निर्दलीय जीवराज ने सर्वाधिक 21,340 रु. जबकि योगेश ने 250 रु. किए खर्च

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अलवर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 6, 2019, 3:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर