पूर्व IPL कमिश्नर ललित मोदी के बेटे रुचिर को अलवर जिला क्रिकेट संघ के अध्यक्ष पद से हटाया

रुचिर मोदी की विदाई के बाद ललित मोदी का राजस्थान क्रिकेट संघ से नाता आधिकारिक तौर पर पूरी तरह से खत्म हो गया है.
रुचिर मोदी की विदाई के बाद ललित मोदी का राजस्थान क्रिकेट संघ से नाता आधिकारिक तौर पर पूरी तरह से खत्म हो गया है.

रुचिर मोदी को अलवर जिला क्रिकेट संघ (Alwar District Cricket Association) के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया है. रुचिर पूर्व आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी (Lalit Modi) के बेटे हैं. रुचिर मोदी की जगह जितेंद्र गुप्ता नए अध्यक्ष चुने गए हैं.

  • Share this:
अलवर. पूर्व आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी (Lalit Modi) के बेटे रुचिर मोदी को अलवर जिला क्रिकेट संघ के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया है. अलवर जिला क्रिकेट संघ (Alwar District Cricket Association) ने आज अपनी नई कार्यकारिणी चुन ली है. इसमें रुचिर मोदी (Ruchir Modi) किसी भी पद पर नहीं हैं. रुचिर मोदी को 2016 में अलवर जिला क्रिकेट संघ का अध्यक्ष बनाया गया था. फिर रुचिर ने राजस्थान क्रिकेट संघ के अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ा था, लेकिन हार गये थे.

राजस्थान में अब क्रिकेट जगत में ललित मोदी युग का पूरी तरह अंत हो गया है. इससे पहले खुद ललित मोदी को नागौर जिला क्रिकेट संघ से हटाया गया था. वर्तमान में राजस्थान क्रिकेट संघ के अध्यक्ष मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत हैं. ललित मोदी के राजस्थान क्रिकेट संघ से रिश्ते की वजह से ही बीसीसीआई राजस्थान क्रिकेट संघ को अनुदान नहीं दे रही है. लेकिन अब रुचिर मोदी की विदाई के बाद मोदी का राजस्थान क्रिकेट संघ से नाता आधिकारिक तौर पर पूरी तरह से खत्म हो गया है.

राजस्‍थान में राशन घोटाला, गरीबों का अनाज डकार गए सरकारी कर्मचारी और धन्‍नासेठ



जितेंद्र गुप्ता बने अध्यक्ष
अलवर जिला क्रिकेट संघ की नई कार्यकारिणी में रुचिर मोदी की जगह जितेंद्र गुप्ता नए अध्यक्ष चुने गए हैं. अशोक कुमार गोयल उपाध्यक्ष, पवन गोयल सचिव, अशोक खंडेलवाल कोषाध्यक्ष और अशोक सिंघानिया व प्रमोद यादव जॉइंट सेक्रेटरी चुने गए हैं. वहीं एक्जक्यूटिव सदस्य के रूप में विजेंद्र गर्ग, राम बाबू शर्मा और अनिल यादव चुने गए गए हैं. इसके साथ ही आज अलवर जिला क्रिकेट संघ की सत्ता बदल गई है.

Rajasthan: रोडवेज ने बढ़ाया अंतरराज्यीय बसों का दायरा, पंजाब के लिए भी शुरू की बसें, देंखे सूची

क्रिकेट पिछले काफी समय से गुटबाजी का शिकार हो रही थी
उल्लेखनीय राजस्थान में क्रिकेट पिछले काफी समय से गुटबाजी का शिकार हो रही थी. इसके चलते राजस्थान में क्रिकेट के भविष्य पर अंधकार के बादल छा गए थे. बाद में लंबी-चौड़ी राजनीति के बाद डॉ. सीपी जोशी आरसीए के अध्यक्ष बने. तब जाकर राजस्थान क्रिकेट में कुछ शांति बहाली हुई, लेकिन फिर भी अंदरूनी उठापटक जारी रही. उसके बाद पिछले दिनों हुए चुनाव के बाद आरसीए की कमान अब सीएम अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत के हाथ में आ गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज