अलवर: डिटेंशन सेंटर की दीवार फांद कर चार बांग्लादेशी फरार, शहर को सील कर तलाश जारी

अलवर जेल के डिटेंशन सेंटर से फरार हुए बांग्लादेशी नागरिक

वन्य और पहाड़ी क्षेत्र की ओर भागने की आशंका के चलते वहां भी सर्च ऑपरेशन (search operation) शुरू करवाया गया है. साथ ही शहर के कमांड सेंटर में लगे सभी सीसीटीवी फुटेज (CCTV Footage) की भी जांच शुरू कर दी गई है जिससे कि इन फरार बांग्लादेशी नागरिकों के बारे में कोई क्लू मिल सके.

  • Share this:
अलवर. राजस्थान के अलवर शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र के अंतर्गत केंद्रीय करागार (Central jail) में बनाए गए डिटेंशन सेंटर (Detention Center) में उस वक्त अफरा-तफरी मच गई जब दिन-दहाड़े दोपहर में तकरीबन एक बजे के आस-पास सेंटर में निरुद्ध किए गए चार बांग्लादेशी नागरिक (Bangladeshi citizen) सेंटर की दीवार फांद कर फरार  गए. फिलहाल पूरे शहर की नाकेबंदी कर दी गई है. पुलिस की सर्च टीम (Police search team) विभिन्न इलाकों में इनकी तलाश में जुटी हुई है.

खंगाले जा रहे सीसीटीवी फुटेज
डिटेंशन सेंटर से बांग्लादेशी नागरिकों के फरार होने के बाद पुलिस और प्रशासन में हड़कम्प मच गया. जिले भर में नाकाबन्दी शुरू करवाई गई. जेल प्रशासन से मिली घटना की सूचना के बाद एएसपी मुख्यालय शिवलाल बैरवा अन्य अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे और मामले की तहकीकात की. उन्होंने सेंटर की छत से चढ़ कर मुआयना भी किया. इसके बाद बाला किला क्षेत्र में वन्य और पहाड़ी क्षेत्र की ओर भागने की आशंका के चलते वहां भी सर्च ऑपरेशन (search operation) शुरू करवाया गया है. साथ ही शहर के अभय कमांड सेंटर में लगे सभी सीसीटीवी फुटेज (CCTV Footage) की भी जांच शुरू कर दी गई है ताकि कुछ क्लू मिल सके.

ये भी पढ़ें- आगरा: आर्थिक तंगी से परेशान शख्स ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा Lockdown में सारे पैसे खर्च

खाना खाया और हो गए फरार
रिपोर्ट के मुताबिक दोपहर का खाना खाने के बाद सेंटर की सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मियों की नजर बचा कर 4 बांग्लादेशी नगरिक फरार हो गए. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि बांग्लादेशी नागरिक जेल परिसर में स्थिति विदेशी नागरिक अभिरक्षा केंद्र की दीवार फांद कर फरार हुए हैं. पुलिस के द्वारा अलवर शहर की नाकाबन्दी कर प्रदेश में सभी जिला मुख्यालय पर अलर्ट भिजवा दिया है. अलवर सहित आस-पास के जिले में नाकाबन्दी कराई गई है. रेलवे स्टेशनों ओर बस स्टैंड के आस-पास पुलिस तैनात कर दी गई है. बता दें कि डिटेंशन सेंटर में विदेशी नागरिकों को विभिन्न मामले में दोषी होने के बाद कोर्ट के द्वारा सुनाई गई सजा पृरी होने के बाद वतन वापसी तक रखा जाता है. सेंटर के माध्यम से उसके देश के दूतावास में सूचना भिजवा दी जाती है और दूसरे देश और भारत के विदेश मंत्रालय से स्वीकृति मिलने के बाद सेंटर से नागरिकों को उनके वतन भिजवाने की व्यवस्था की जाती है. राजस्थान में एक मात्र डिटेंशन सेंटर अलवर की केंद्रीय जेल परिसर में बनाया हुआ है. जिसकी सुरक्षा की जिम्मेदार अलवर पुलिस के जिम्मे होती है. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिवलाल बेरवा ने बताया कि चार बांग्लादेशी आज दोपहर 1 बजे के करीब दीवार कूदकर फरार हुए हैं उसके बाद पहाड़ी क्षेत्र में पुलिस सर्च कर रही है और शहर में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात कर दी गई है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.