Assembly Banner 2021

गैंगस्टर पपला गुर्जर की गर्लफ्रेंड जिया अलवर जेल से रिहा, रोते हुए दिया चौंकाने वाला बयान

गैंगस्टर पपला गुर्जर की गर्लफ्रेंड जिया करीब करीब दो माह तक जेल में रही.

गैंगस्टर पपला गुर्जर की गर्लफ्रेंड जिया करीब करीब दो माह तक जेल में रही.

जेल से बाहर आते ही गैंगस्टर पपला गुर्जर की गर्लफ्रेंड जिया फूट-फूटकर रोने लगी. पिता चांद सिकलगर ​​​बेटी को लेने आए ​​​​अलवर पहुंचे थे. उन्होंने कहा कि गैंगस्टर पपला ने खुद को रॉयल फैमिली का बताकर बेटी को फंसाया था. समझ नहीं आ रहा है कि अब बेटी के लिए दूसरा रिश्ता कहां देखें? अब उससे कौन शादी करेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 7, 2021, 11:42 PM IST
  • Share this:
अलवर. अलवर जिले के बहरोड जेल से फरार कुख्यात बदमाश पपला की गर्लफ्रेंड जिया को हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद अलवर जेल से बुधवार शाम रिहा कर दिया गया. अलवर केंद्रीय काराग्रह से रिहा होने के बाद जिया ने कहा कि पपला दिल्ली का रहने वाला मानसिंह बनकर उसके पास आया था और झूठ बोलकर उसके पास जिम में ट्रेनिंग करने आता था. जिया ने कहा कि उसका पपला से कोई संबंध नही है. जिया ने उसकी गर्लफ्रेंड होने ओर पैसे ट्रांसफर की बात से इनकार किया. जेल से बाहर आते ही जिया फूट-फूटकर रोने लगी.

पिता चांद सिकलगर ​​​बेटी को लेने आए ​​​​अलवर पहुंचे थे. उन्होंने कहा कि गैंगस्टर पपला ने खुद को रॉयल फैमिली का बताकर बेटी को फंसाया था. उसने मेरी बेटी का जीवन बर्बाद कर दिया. वह इतना बड़ा गैंगस्टर है, इसका जरा सा भी आभास नहीं था. मेरी भी एक बार फोन पर बात हुई थी. समझ नहीं आ रहा है कि अब अपनी बेटी के लिए दूसरा रिश्ता कहां देखें? अब कौन उससे शादी करेगा. पिता ने यह भी बताया कि पपला ने जिम ट्रेनर बेटी से कहा था कि वह उसको नया जिम खुलवा देगा. बता दें कि जिया के पिता पेशे से डॉक्टर हैं. मां हाउसवाइफ हैं. जिया दो बहनें हैं. छोटी अभी पढ़ रही है. जिया की पहले कारोबारी से शादी हुई थी. उससे तलाक हो चुका था.

एक दिन पहले मंगलवार को ही जिया को हाईकोर्ट से जमानत मिली थी. सबसे पहले जमानत के आदेश लेकर उसके वकील बहरोड़ थाने से अलवर पहुंचे. 28 जनवरी को महाराष्ट्र के कोल्हापुर से पपला के साथ पुलिस ने जिया को गिरफ्तार किया था. उसके बाद पहले 7 दिन वह पुलिस कस्टडी में रही. 4 फरवरी को
कोर्ट ने जेल भेज दिया था. वह करीब 2 माह 4 दिन जेल में रही. जिया के वकील अंकित गर्ग ने बताया था कि हाईकोर्ट से जमानत भी इसी आधार पर मिली है कि कोई अनजाने में किसी के साथ रहने लगे तो वह अपराधी कैसे हो सकती है? उसे इसका पता नहीं था कि पपला एक फरार गैंगस्टर है. उसने खुद को
बिजनेसमैन बताया था.



वकील के मुताबिक, जिया कोल्हापुर में जिम ट्रेनर थी. पपला गुर्जर भी उसी जिम में जाने लगा था. 13 दिसंबर को दोनों की मुलाकात हुई थी. यहीं दोनों में नजदीकियां बढ़ीं. पपला ने बताया था कि वह बिजनेस के सिलसिले में आया है. अभी लॉकडाउन की वजह से वह यहां रुका हुआ है. इसी दौरान जिया पपला के
प्रेमजाल में फंसती चली गई.

एडवोकेट अंकित गर्ग ने बताया कि जिया के संपर्क में आने से पहले ही पपला ने फर्जी आधार कार्ड बनवा रखा था. दस्तवेज़ मकान मालिक को दे रखे थे इसलिए जिया ने आधार कार्ड बनवाने के आरोप गलत है. पपला ने भरतपुर के किसी व्यक्ति के नाम से फर्जी आधार कार्ड बनवा रखा था. उसने खुद का नाम
मान सिंह बताया था. बाद में मकान मालिक और जिया को बताया कि उसे प्यार से घर में सब मान सिंह बुलाते हैं. मान सिंह नाम रॉयल फैमिली जैसा है. ऐसा मानकर ही उसने यह नाम बताया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज