Dalit family conversion case: ज्ञानदेव आहूजा ने दिया अल्टीमेटम, 7 दिन में कार्रवाई हो नहीं तो होगा आंदोलन

आहूजा ने कहा कि अलवर के मेवात में हिंदुओं को पलायन नहीं करने दिया जाएगा. उन पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ लड़ाई लड़ी जाएगी.
आहूजा ने कहा कि अलवर के मेवात में हिंदुओं को पलायन नहीं करने दिया जाएगा. उन पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ लड़ाई लड़ी जाएगी.

Dalit family conversion case:

  • Share this:
अलवर. जिले के बड़ौदा मेव थाना इलाके के भयाड़ी गांव के दलित परिवार के धर्म परिवर्तन (Religion change) का मामला तूल पकड़ने लग गया है. इस मामले में कार्रवाई करने के लिये बीजेपी के वरिष्ठ नेता ज्ञानदेव आहूजा (Gyandev Ahuja) ने पुलिस-प्रशासन को 7 दिन का अल्टीमेटम दिया है. आहूजा ने एक बार फिर विवादित बयान देते हुये कहा कि मेवात में हिंदुओं पर अत्याचार (Torture) कर उनका धर्म परिवर्तन करवाया जा रहा है.

मामले को लेकर ज्ञानदेव आहूजा ने बुधवार को एएसपी श्रीमन मीणा से मिलकर आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी करने की मांग की है. हिंदूवादी नेता की छवि वाले पूर्व विधायक आहूजा ने कहा कि हरियाणा के मेवात क्षेत्र में 103 गांव हिन्दू विहीन हो गए हैं. इन गांवों में धर्म विशेष के लोगों के अत्याचारों से परेशान होकर हिन्दू पलायन कर गये हैं. फिलहाल 78 गांवों में हिंदुओं के मात्र 4 से 4 घर बचे हैं.

Alwar: दलित परिवार का आरोप- जबरन कराया धर्म परिवर्तन, फिर दी जान से मारने की धमकी



मेवात में हिंदुओं को पलायन नहीं करने दिया जाएगा
अलवर के मेवात में हिंदुओं को पलायन नहीं करने दिया जाएगा. उन पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ लड़ाई लड़ी जाएगी. भयाड़ी गांव के मेमचन्द जाटव का धर्म परिवर्तन कराने के मामले में प्रशासन 7 दिन में कार्रवाई करें अन्यथा वे हजारों लोगों को लेकर आंदोलन करेंगे. वहीं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्रीमन मीणा ने बताया कि भयाड़ी गांव में धर्म परिवर्तन का मामला जानकारी में आया है. लेकिन फिलहाल कोर्ट का कोई आदेश उन्हें नही मिला है. परिवादी भी पुलिस के पास नहीं आया है. कोर्ट के जैसे आदेश होंगे उसके आधार पर जांच कर कार्रवाई की जायेगी.

पीड़ित परिवार ने कोर्ट से मदद की गुहार लगाई है
उल्लेखनीय है कि हाल में यहां धर्म परिवर्तन का एक मामला सामने आया है. पीड़ित परिवार ने आरोप लगाया है कि उनका जबरन धर्म परिवर्तन करवाकर उन्हें जम्मू कश्मीर ले जाया गया. मुंह खोलने पर जान से मारने की धमकी भी दी गई. इस मामले को लेकर पीड़ित परिवार ने कोर्ट से मदद की गुहार लगाई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज