Alwar: पत्नी की ख्वाहिश पूरी करने के लिये पति ने चुराई स्कूटी, पुलिस के हत्थे चढ़ा तो खुला राज

पति ने भिवाड़ी में सब्जी मंडी के पास खड़ी एक स्कूटी को चुरा लिया और अपनी पत्नी को लाकर दे दी. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
पति ने भिवाड़ी में सब्जी मंडी के पास खड़ी एक स्कूटी को चुरा लिया और अपनी पत्नी को लाकर दे दी. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

अलवर में एक पति ने पत्नी (Wife) की स्कूटी लेने की ख्वाहिश (Wish) पूरी करने के लिये जुर्म का रास्ता अपना लिया. आर्थिक तंगी के कारण उसने पत्नी के लिये एक स्कूटी (Scooty) चुरा ली, लेकिन पकड़ा गया.

  • Share this:
अलवर. अपनी पत्नी की इच्छा (Wife's wish) को पूरा करने के लिये एक व्यक्ति स्कूटी चोर (Scooty thief) तक बन गया. सुनने में भले ही आपको इस बात पर यकीन ना हो, लेकिन यह सौ टका सही है. पुलिस (Police) ने जब स्कूटी चोर को पकड़कर उससे पूछताछ की तो यह सच सामने आया. चोर की बात सुनकर पुलिस का भी दिल पसीज गया. अब वह पशोपेश में है कि ऐसे चोर का क्या करे ? आरोपी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है.

Rajasthan: कृषि से आय दोगुनी नहीं बल्कि कई गुणा होगी, जयपुर के किसान से जानिए तरकीब

मामला अलवर के भिवाड़ी कस्बे से जुड़ा हुआ है. यहां एक पति ने पत्नी की स्कूटी की इच्छा पूरी करने के लिये चोरी की वारदात को अंजाम दे डाला. लेकिन उसका यह प्रयास पत्नी को ज्यादा दिन तक खुश नहीं रख पाया और वह पकड़ा गया. दरअसल भिवाड़ी के फूलबाग थाना पुलिस ने एक दुपहिया वाहन चोर को गिरफ्तार किया है. पूछताछ में उसने पुलिस को बताया कि वह उसने अपनी पत्नी की चाह को पूरा करने के लिए स्कूटी चुराई थी. बाद में स्कूटी की नंबर प्लेट को बदलकर भिवाड़ी की सड़कों पर चलाने के लिये दे दी.



मिलिए राजस्‍थान के 'मास्‍क मैन' से, 26 वर्षों से कभी नहीं छोड़ा इसका साथ
उत्तर प्रदेश का रहने वाला है आरोपी
पकड़ा गया आरोपी उत्तरप्रदेश के मठिया कप्तानगंज निवासी सत्येन्द्र है. उसने इस चोरी के लिये अपनी पत्नी को जिम्मेदार ठहराया है. उसका कहना है कि पत्नी रोजाना उसे नई स्कूटी लाने के लिए बोलती थी. लेकिन उसकी आर्थिक स्थिति ऐसी नही थी कि वो अपनी पत्नी को नई स्कूटी लाकर दे देता. जब पत्नी ने बार बार स्कूटी लाने के लिए बोला तो वह जुर्म का रास्ता अपनाते हुए भिवाड़ी के फूलबाग सब्जी मंडी के पास अपनी पत्नी की खशियों को पूरा करने के लिए पहुंच गया. वहां से उसने सब्जी मंडी के पास खड़ी एक स्कूटी को चुरा लिया और अपनी पत्नी को दे दी. थाने की हेड कॉस्टेबल कविता को उसकी स्कूटी नंबर पर शक हुआ तो वो वह उसे थाने ले आयी. हेड कॉस्टेबल ने जब उससे गहन पूछताछ में आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज