Home /News /rajasthan /

मजिस्ट्रेट ने ICU पहुंचकर भर्ती आरोपी महिला को जेल भेजने के दिए आदेश

मजिस्ट्रेट ने ICU पहुंचकर भर्ती आरोपी महिला को जेल भेजने के दिए आदेश

आरोपी महिला सीमा की पेशी की कार्यवाही पूरी करते हुए उसे 15 दिन के न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया है. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

आरोपी महिला सीमा की पेशी की कार्यवाही पूरी करते हुए उसे 15 दिन के न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया है. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

अलवर (Alwar) जिले में मारपीट के आरोप में गिरफ्तार (Arrested) की गई महिला को जब पुलिस अस्पताल में भर्ती होने के कारण तय समयावधि में अदालत (Court) में पेश नहीं कर पाई तो मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (Chief Judicial Magistrate )खुद ही अस्पताल पहुंच गए.

अधिक पढ़ें ...
अलवर. जिले में मारपीट के आरोप में गिरफ्तार (Arrested) की गई महिला को जब पुलिस अस्पताल में भर्ती होने के कारण तय समयावधि में अदालत (Court) में पेश नहीं कर पाई तो मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (Chief Judicial Magistrate )खुद ही अस्पताल पहुंच गए. मजिस्ट्रेट ने अस्पताल के आईसीयू में ही अदालत की कार्यवाही पूरी कर आरोपी महिला को 15 दिन के लिए न्यायिक अभिरक्षा (Judicial custody) में भेज दिया. इस दौरान महिला का अस्पताल में इलाज चलता रहेगा और ठीक होने के बाद डिस्चार्ज करने पर उसे जेल शिफ्ट कर दिया जाएगा. अलवर में बुधवार को हुआ यह घटनाक्रम काफी चर्चा में रहा.

बुधवार को पेश किया जाना था कोर्ट में
कोतवाली थानाधिकारी किशनलाल ने बताया कि आरोपी सीमा ने महिला अस्पताल के प्रभारी डॉ. श्यामबिहारी जारेड़ा पर दो दिन पहले 24 सितंबर को चप्पल से हमलाकर उनसे मारपीट कर दी थी. मारपीट के आरोप में सीमा को गिरफ्तार किया गया था. बुधवार को उसे कोर्ट में पेश किया जाना था. लेकिन इससे पहले पर बुधवार को सुबह चेस्ट पेन होने पर उसे राजीव गांधी सामान्य अस्पताल में भर्ती कराया गया.

पुलिस ने कोर्ट में पेश की महिला की पत्रावली
सीमा की तबीयत खराब होने के कारण चिकत्सकों ने उसे आईसीयू से डिस्चार्ज नहीं किया. इस पर पुलिस ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष गिरफ्तार महिला की पत्रवाली कोर्ट में पेश की. इसे देखते हुए सीजेएम पवन जीनवाल बुधवार को दोपहर बाद 4:15 बजे अस्पताल के आईसीयू वार्ड पहुंचे. वहां उन्होंने आरोपी महिला सीमा की पेशी की कार्यवाही पूरी करते हुए उसे 15 दिन के न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया है.

3 दिन में मेडिकल रिपोर्ट पेश करने के निर्देश
मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट पवन जीनवाल की इस मामले को गंभीरता से लेते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को मेडिकल बोर्ड बनाकर आरोपी सीमा की मेडिकल रिपोर्ट 3 दिन में पेश करने के निर्देश दिए हैं. अदालत ने इस मामले में डॉ. अशोक महावर पर गंभीर टिप्पणी करते हुए कहा कि उन्होंने गलत रिपोर्ट देकर जानबूझकर अदालत का समय बर्बाद किया है.

दोस्त को सुपारी देकर पति ने ही करवाई थी पत्नी की हत्‍या

बंदियों को अर्द्धनग्न कर निकाला जुलूस, मानवाधिकार आयोग ने लिया संज्ञान

Tags: Court, Rajasthan news, Rajasthan police, अलवर

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर