अपना शहर चुनें

States

अलवर में अपराधियों को ठेके पर रखकर कराते थे लूट, चचेरे भाई गिरफ्तार

पुलिस की गिरफ्त में लुटेरे भाई
पुलिस की गिरफ्त में लुटेरे भाई

अलवर शहर में अपराधियों को ठेके पर रखकर लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले दो चचेरे भाइयों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

  • Share this:
अलवर शहर में घरों में घुसकर लूटपाट करने वाले गैंग का गुरुवार को पुलिस ने खुलासा कर दिया. पुलिस ने राहुल और बृजपाल नाम के दो चचेरे भाइयों को गिरफ्तार किया है. पुलिस दो और बदमाशों की तलाश में जुटी है. बदमाशों ने जल्द अमीर बनने की चाहत में अपराध की दुनिया मे कदम रखा था और घरों की पहके रेकी करते थे और बाद में महिला और बुजुर्ग दम्पति होने पर उन्हें बंधक बनाकर लूट की वारदात को अंजाम देकर फरार हो जाते थे. इसके लिए ठेके पर अपराधियों को रखते थे.

मीडिया को पूरे मामलों की जानकारी देते देशमुख परिस अनिल, एसपी अलवर


इस गैंग के बदमाशों ने डेरा अलवर के मीणा पाड़ी में सास- बहू को मिठाई का डिब्बा देने के बहाने घर में घुसकर बंधक बना लिया था और इसके बाद नकदी ओर ज्वैलरी लूटकर फरार हो गए थे. पुलिस ने आस-पड़ोस में सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बदमाशों की पहचान की और उन्हें हरसौरा थाने के झाझरपुर गांव से गिरफ्तार किया.



सास- बहू को बंधक बना कर लूट के मामले से हुआ खुलासा
पुलिस अधीक्षक अलवर एसपी देशमुख परिस अनिल ने बताया कि मीणा पार्टी में सास- बहू को बंधक बना कर लूट के मामले में पुलिस ने परिवादी अभय अग्रवाल के चाचा भूपेंद्र सिंह के लड़के मुकुल से गहनता से पूछताछ की गई. घटनास्थल से बीटीएस उठाए गए थे जिसके आधार पर मुल्जिमों की पहचान के प्रयास किए गए. इसके बाद पुलिस को राहुल निवासी झंझारपुर भूपेंद्र सिंह की दुकान में 2016 तक काम करता था, उसकी संलिप्तता नजर आई. पुलिस ने राहुल और उसके ताऊ के लड़के बृजपाल को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो दोनों ने वारदात करना स्वीकार कर लिया. आरोपियों के शराब पीने के आदी होने और जल्द से जल्द अमीर बनने की ख्वाहिश के चलते दो बदमाशों को ठेके पर बुलाकर इस वारदात को अंजाम दिलाया था. बदमाशों के अन्य वारदातों के बारे में पूछताछ की जा रही है.

ये भी पढ़ें- खाप के फैसले के चलते दो साल से नहीं मिली पानी की एक बूंद

फोटो वायरल करने की धमकी देकर देवर ने भाभी से किया रेप
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज