Alwar: शराब माफियाओं ने ठेकेदार के साथी को घेरकर चाकुओं से गोद डाला, मौत
Alwar News in Hindi

Alwar: शराब माफियाओं ने ठेकेदार के साथी को घेरकर चाकुओं से गोद डाला, मौत
हमला होते ही आबकारी निरीक्षक और उनकी टीम जान बचाकर भाग छूटे.

अवैध शराब और बजरी खनन माफिया बेखौफ हो रखे हैं. दो दिन पहले दौसा जिले में अवैध खनन माफियाओं ने बॉर्डर होमगार्ड के जवान की हत्या कर दी थी. वहीं अब अलवर के किशनगढ़बास इलाके में अवैध शराब माफियाओं ने शराब ठेकेदार के साथी को चाकुओें से गोदकर मार डाला.

  • Share this:
अलवर. राजस्थान में अवैध शराब और बजरी खनन माफिया (Wine and Gravel Mining Mafia) बेखौफ हो रखे हैं. दो दिन पहले प्रदेश के दौसा जिले में अवैध खनन माफियाओं ने बॉर्डर होमगार्ड के जवान की हत्या कर दी थी. वहीं अब अलवर के किशनगढ़बास इलाके में अवैध शराब माफियाओं ने शराब ठेकेदार के साथी को चाकुओें से गोदकर मार (Murder) डाला. वारदात में शराब ठेकेदार भी गंभीर रूप से घायल हो गया. उसका अलवर जिला मुख्यालय पर राजीव गांधी चिकित्सालय में इलाज चल रहा है. शराब माफियाओं के हमले के दौरान आबकारी विभाग टीम जान बचाकर भाग छूटी.

आधा दर्जन से ज्यादा थे हमलावर
किशनगढ़बास पुलिस उपाधीक्षक ताराचंद ने बताया कि वारदात सोमवार रात करीब 8 बजे हुई. पेहल गांव का लाइसेंसधारी शराब ठेकेदार वीरेंद्र अगवानी अपने साथी विक्रम जाट और खैरथल आबकारी निरीक्षक विजय कुमार तथा उनकी टीम के साथ रानोठ गांव में अवैध शराब की बिक्री की शिकायत के बाद दबिश देने के लिए गए थे. इस दौरान आबकारी टीम और शराब ठेकेदार को देखकर अवैध शराब माफिया ओमप्रकाश, सतेंद्र और उनके करीब आधा दर्जन साथियों ने उन पर हमला कर दिया.

Alert: राजस्थान में जोधपुर, अलवर, पाली, भरतपुर, बीकानेर और अजमेर तेजी से फैल रहा है कोरोना
आरोपियों का अभी तक नहीं लगा कोई सुराग


हमला होते ही आबकारी निरीक्षक और उनकी टीम जान बचाकर भाग छूटे. लेकिन शराब माफियाओं ने शराब ठेकेदार वीरेन्द्र और उसके साथी विक्रम को घेर लिया. बाद में उन्होंने दोनों पर चाकुओं से ताबड़तोड़ हमला कर दिया. इसमें विक्रम जाट की मौत हो गई जबकि वीरेंद्र गंभीर रूप से घायल हो गया. विक्रम के परिजनों ने तातारपुर थाने में शराब माफियाओें के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया है. पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है, लेकिन उनका अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है. मृतक विक्रम जाट मातौर गांव का रहने वाला था. पुलिस ने विक्रम के शव का पोस्टमार्टम करवाकर उसे परिजनों के सुपुर्द कर दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading