Home /News /rajasthan /

राजस्‍थान: उपचुनाव में हाथ से फिसल गई थी अलवर सीट, बीजेपी ने अब अपनाई यह रणनीति

राजस्‍थान: उपचुनाव में हाथ से फिसल गई थी अलवर सीट, बीजेपी ने अब अपनाई यह रणनीति

अलवर से बीजेपी के प्रत्याशी बाबा बालकनाथ।

अलवर से बीजेपी के प्रत्याशी बाबा बालकनाथ।

उपचुनाव में हाथ से फिसली अलवर लोकसभा सीट को फिर से हासिल करने के लिए बीजेपी ने नाथ सम्प्रदाय के महंत पर भरोसा जताया है.

    उपचुनाव में हाथ से फिसली अलवर लोकसभा सीट को फिर से हासिल करने के लिए बीजेपी ने दोबारा से नाथ सम्प्रदाय के महंत पर भरोसा जताया है. बीजेपी ने अलवर से इस बार पूर्व सांसद दिवंगत मंहत चांदनाथ के शिष्य बाबा बालकनाथ को अपना प्रत्याशी बनाया है. बाबा बालकनाथ को महंत चांदनाथ ने अपना उत्तराधिकारी घोषित किया था.

    राजस्‍थान: कांग्रेस के बाद बीजेपी ने चूरू, अलवर और बांसवाड़ा लोकसभा सीट के लिए घोषित किए प्रत्याशी

    1985 में जन्मे बालकनाथ अलवर जिले के बहरोड़ क्षेत्र के मोहराणा गांव के रहने वाले हैं. महज छह वर्ष की आयु में वर्ष 1991 में वह हरियाणा के रोहतक में बाबा मस्तनाथ मठ अस्थल बोहर के महंत चांदनाथ योगी के शिष्य बन गए थे. बालकनाथ पिछले 15 साल से हनुमानगढ़ जिले में बाबा मत्सनाथ आश्रम में रह रहे थे. वह महंत चांदनाथ के काफी नजदीकी रहे हैं. महंत चांदनाथ भी शुरुआती दिनों में इसी आश्रम में रहते थे.

    लोकसभा चुनाव-2019: 11 सीटों पर तय हुए मुकाबले, यहां देखें कौन-कौन हैं आमने-सामने

    महंत चांदनाथ रहे हैं विधायक एवं सांसद
    चांदनाथ अलवर के बहरोड़ से 2004 में उपचुनाव में विधायक चुने गए थे. उसके बाद 2014 में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी को हराकर सांसद बने थे. वर्ष 2016 में महंत चांदनाथ योगी ने अस्वस्थ होने के कारण 29 जुलाई को रोहतक में बालकनाथ को अपना उत्तराधिकारी घोषित किया था. इस मौके पर बाबा रामदेव और योगी आदित्यनाथ सहित कई राज्यों के महंत मौजूद थे.

    लोकसभा चुनाव-2019: प्रदेश में कांग्रेस ने ऐसे साधा जातिगत गणित

    बालकनाथ को उत्तराधिकारी घोषित किया था महंत चांदनाथ ने
    वर्ष 2017 में महंत चांदनाथ का निधन हो गया. उसके बाद हुए उपचुनाव में बीजेपी ने अलवर से अपने तत्कालीन मंत्री जसवंत सिंह यादव को चुनाव मैदान में उतारा था. इस दौरान भी बालकनाथ ने अलवर लोकसभा सीट के लिए अपनी दावेदारी जताई थी, लेकिन उन्हें टिकट नहीं मिली. जसवंत सिंह यादव के सामने कांग्रेस ने पूर्व सांसद डॉ. करण सिंह यादव को प्रत्याशी बनाया. इस उपचुनाव में यह सीट बीजेपी के हाथ से निकल गई. अब बीजेपी ने एक बार फिर इस सीट पर जीत दर्ज कराने के लिए महंत बालकनाथ को चुनाव मैदान में उतारा है.

    लोकसभा चुनाव-2019: बागियों के प्रति बीजेपी का कड़ा रुख, कहा- अभी कांग्रेस को है जरूरत

    प्रत्याशी चयन में बदलाव की आहट, कांग्रेस नए जातीय समीकरण और बीजेपी देख रही फीडबैक

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट

    Tags: Amit shah, BJP, Know Your Leader, Lok Sabha Election 2019, Lok sabha elections 2019, Pm narendra modi, Rajasthan Lok Sabha Elections 2019, Rajasthan news, Vasundhara raje, अलवर

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर