अलवर: मॉब लिंचिंग का शिकार हुए दलित युवक के पिता ने खाया जहर, पुलिस पर लगाए थे गंभीर आरोप

राजस्थान (Rajasthan) के अलवर में मॉब लिंचिग (Mob Lynching) का शिकार हुए दलित युवक हरीश जाटव के पिता ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली है.

News18 Rajasthan
Updated: August 15, 2019, 11:01 PM IST
अलवर: मॉब लिंचिंग का शिकार हुए दलित युवक के पिता ने खाया जहर, पुलिस पर लगाए थे गंभीर आरोप
बीते जुलाई महीने में सड़क दुर्घटना से आक्रोशित हुई ग्रामीणों की भीड़ ने बाइक चालक दलित युवक हरीश जाटव को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया था.
News18 Rajasthan
Updated: August 15, 2019, 11:01 PM IST
राजस्थान (Rajasthan) के अलवर में मॉब लिंचिग (Mob Lynching) का शिकार हुए दलित युवक हरीश जाटव के पिता ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली है. परिजनों के मुताबिक रत्तीराम जाटव ने मरने के पहले आरोप लगाया था कि पुलिस हत्यारों को बचाने की कोशिश कर रही है. रत्तीराम जाटव न्याय न मिलने से परेशान थे. वो बार-बार पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठा रहे थे. परिजनों के मुताबिक पुलिस हरीश की मॉब लिंचिंग को एक्सिडेंट साबित करने पर तुली हुई है.

जुलाई में हुई थी हरीश की मॉब लिंचिंग
बीते जुलाई महीने में सड़क दुर्घटना से आक्रोशित हुई ग्रामीणों की भीड़ ने बाइक चालक दलित युवक हरीश जाटव को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया था. उसके बाद घायल को दिल्ली अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वहां उनकी उपचार के दौरान मौत हो गई.

फसला गांव में भीड़ ने पीटा था हरीश को

घटना चौपानकी थाना इलाके के फसला गांव में हुई. वहां हरीश जाटव की बाइक से एक महिला को टक्कर लग गई थी. इससे मौके पर मौजूदा गुस्साए ग्रामीणों ने हरीश जाटव को पकड़कर वहीं पर जोरदार पिटाई कर दी थी. बाद में गंभीर रूप से घायल हरीश को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वहां से परिजन उन्हें दिल्ली ले गए.

दोनों तरफ से हुई थी एफआईआर
इस घटना की सूचना के बाद पुलिस-प्रशासन हरकत में आ गया था. लेकिन पुलिस इस मामले से बोलने से बच रही है. हरीश की मॉब लिंचिंग के बाद दोनों ही पक्षों की तरफ से FIR दायर की गई है.
Loading...

मॉब लिंचिंग को लेकर सुर्खियों में अलवर
राजस्थान का अलवर जिला पहलू खान मॉब लिंचिंग केस के बाद से लगातार मीडिया की सुर्खियों में रहा है. बीते दिनों इस केस के सभी आरोपियों को कोर्ट से बरी कर दिया गया है. पहलू खान के बाद अब हरीश जाटव की मॉब लिंचिंग को लेकर भी प्रशासन की काफी आलोचना की गई थी. अब हरीश की पिता की आत्महत्या ने पुलिस की कार्यशैली पर एक बार फिर सवाल खड़े कर दिए हैं.

गौरतलब है कि गुरुवार को ही मुख्यमंत्री ने कहा है कि मॉब लिंचिंग ( Mob Lynching ) को लेकर कानून बनाने वाला राजस्थान (Rajasthan) मणिपुर के बाद में दूसरा राज्य बना है. हमारी सरकार ने सोच-समझकर इस कानून को पास करवाया है और जल्द ही यह लागू हो जाएगा. उन्होंने कहा कि पहलू खान (Pehlu Khan) वाले मामले में भी सरकार ने निर्णय किया है कि हम वापस अपील करेंगे.

ये भी पढ़ें:

स्वतंत्रता दिवस पर सीएम अशोक गहलोत ने किया ध्वजारोहण, उत्कृष्ट और विशिष्ट प्रतिभाओं को भी किया सम्मानित

स्वतंत्रता दिवस पर साफिया खान का विवाद बयान- कहा देश में आजादी महसूस नहीं कर रहे लोग
First published: August 15, 2019, 10:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...