होम /न्यूज /राजस्थान /अलवर Mob Lynching: अंधे पिता के बुढ़ापे की लाठी था भीड़ के हाथों मारा गया हरीश

अलवर Mob Lynching: अंधे पिता के बुढ़ापे की लाठी था भीड़ के हाथों मारा गया हरीश

मृतक हरीश जाटव। फाइल फोटो

मृतक हरीश जाटव। फाइल फोटो

मॉब लिंचिंग को लेकर देशभर में बदनाम हो चुके अलवर पर एक और बदनुमा धब्बा लग गया है. जिले में तीन दिन पहले मंगलवार को भीड़ ...अधिक पढ़ें

    मॉब लिंचिंग को लेकर देशभर में बदनाम हो चुके अलवर पर एक और बदनुमा धब्बा लग गया है. जिले में तीन दिन पहले मंगलवार को चौपानकी थाना इलाके में सड़क दुर्घटना के बाद भीड़ की पिटाई के शिकार हुए दलित युवक ने शुक्रवार को गुरुग्राम में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया है. भीड़ की मार के शिकार हुए हरीश जाटव के सिर और छाती में गंभीर चोट आईं थी.

    ट्रक चलाता था हरीश जाटव
    जानकारी के अनुसार हरीश जाटव ट्रक चलाता था. उसकी चार बेटियां हैं. पिता अंधे हैं. झिवाना निवासी हरीश जाटव मंगलवार शाम को चौपानकी थाना इलाके के फसला गांव से जा रहा था. इसी दौरान उसकी बाइक से एक महिला को टक्कर लग गई थी. मौके पर मौजूद गुस्साए ग्रामीणों ने हरीश को पकड़कर वहीं पर जोरदार पिटाई कर दी थी. पिटाई से वह बेहोश हो गया था. इसके बाद ग्रामीणों ने चौपानकी पुलिस को सूचना दे दी. पुलिस ने हरीश को टपूकड़ा अस्पताल में भर्ती कराया और उसके परिजनों को सूचना दी.

    पिता ने की दोषियों को कड़ी सजा देने की मांग
    परिजन अस्पताल पहुंचे तो डॉक्टरों ने हरीश की हालत गंभीर होने पर उसे रेफर कर दिया. इस पर परिजन उसे गुरुग्राम ले गए. वहां इलाज के दौरान शुक्रवार को सुबह हरीश ने दम तोड़ दिया. हरीश की मौत की सूचना के बाद से उसके परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. अब मृतक की पत्नी रेखा पर चार बेटियों के भविष्य के साथ ही अंधे ससुर की जिम्मेदारी भी आ पड़ी है. फिलहाल पुलिस-प्रशासन का कोई अधिकारी उसके घर नहीं पहुंचा है. मृतक के पिता रत्तीराम ने आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की है.

    4 बेटियों के पिता पर बेरहमी से टूटी भीड़, पीट-पीटकर की हत्या

    अलवर में एक और रेपिस्ट को उम्रकैद, मासूम से किया था रेप

    Tags: Crime in Rajasthan, Mob lynching, Rajasthan news, अलवर

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें