4 साल की मासूम से किया था रेप, कोर्ट ने अंतिम सांस तक जेल में रहने की सुनाई सजा

अलवर में विशिष्ट न्यायालय पॉक्सो एक्ट क्रम संख्या-3 ने चार साल की मासूम से रेप करने के आरोपी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है. कोर्ट के फैसले के अनुसार आरोपी को शेष प्राकृतिक जीवन यानी अंतिम सांस तक सलाखों के पीछे रहना पड़ेगा.

Rajendra Prasad Sharma | News18 Rajasthan
Updated: July 9, 2019, 5:58 PM IST
4 साल की मासूम से किया था रेप, कोर्ट ने अंतिम सांस तक जेल में रहने की सुनाई सजा
पुलिस गिरफ्त में रेपिस्ट। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
Rajendra Prasad Sharma | News18 Rajasthan
Updated: July 9, 2019, 5:58 PM IST
अलवर में विशिष्ट न्यायालय पॉक्सो एक्ट क्रम संख्या-3 ने चार साल की मासूम से रेप करने के आरोपी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है. कोर्ट के फैसले के अनुसार आरोपी को शेष प्राकृतिक जीवन यानी अंतिम सांस तक सलाखों के पीछे रहना पड़ेगा. आरोपी करीब 2 साल पहले 4 वर्षीय मासूम को उसके घर से उठाकर जंगल में ले गया था. वहां उसने मासूम से रेप किया था.

17 जुलाई, 2017 को टहला थाना इलाके में हुई थी वारदात
अपर लोक अभियोजक योगेंद्र सिंह खटाना ने बताया कि वारदात 17 जुलाई, 2017 को टहला थाना इलाके में हुई थी. वहां आरोपी मनीष कोली (20) पड़ोस में रहने वाली चार वर्षीय मासूम को घर में अकेला देखकर उसे जबरन वहां से उठाकर जंगल में ले गया. आरोपी ने सुनसान जंगल में मासूम से रेप किया और उसे लहूलुहान हालत में छोड़कर फरार हो गया. वहां किसी महिला ने मासूम को पड़ा हुआ देखा. बाद में बालिका को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया. पीड़िता के दादा ने इस संबंध में मनीष कोली के खिलाफ नामजद मामला दर्ज करवाया.

कोर्ट में 18 गवाहों के बयान कराए गए

पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने जांच के बाद आरोपी के खिलाफ कोर्ट में चालान पेश कर दिया. कोर्ट में सुनवाई के दौरान 18 गवाहों के बयान कराए गए. सुनवाई के बाद गवाहों के बयान और उपलब्ध साक्ष्यों के आधार पर न्यायाधीश राजेन्द्र शर्मा ने आरोपी मनीष कोली को रेप का दोषी करार देते हुए उसे उम्रकैद (अंतिम सांस तक) की सजा सुनाई है.

'सेक्सुअल प्रिडेटर है जयपुर में पकड़ा गया सीरियल रेपिस्ट'

साइको रेपिस्ट है जयपुर की मासूम का गुनाहगार सिकंदर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अलवर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 9, 2019, 5:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...