Home /News /rajasthan /

अलवर नगर परिषद में तख्तापलट की तैयारी, पार्षदों की बाड़ाबंदी हुई शुरू

अलवर नगर परिषद में तख्तापलट की तैयारी, पार्षदों की बाड़ाबंदी हुई शुरू

अलवर के बाहर स्थित एक रिसोर्ट में बैठक करते विरोधी पार्षद। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

अलवर के बाहर स्थित एक रिसोर्ट में बैठक करते विरोधी पार्षद। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही अलवर नगर परिषद में तख्तापलट की तैयारी शुरू हो गई है. नगर परिषद अलवर में बीजेपी का बोर्ड है और अशोक खन्ना वर्तमान में सभापति के पद पर कार्यरत हैं.

प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही अलवर नगर परिषद में तख्तापलट की तैयारी शुरू हो गई है. नगर परिषद अलवर में बीजेपी का बोर्ड है और अशोक खन्ना वर्तमान में सभापति के पद पर कार्यरत हैं. उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए पार्षदों की बाड़ाबंदी शुरू हो गई है.

अविश्वास प्रस्ताव कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व में निर्दलीय और बीजेपी के नाराज पार्षदों के द्वारा लाया जा रहा है. इसके लिए अलवर शहर के बाहर एक रिसोर्ट में गुरुवार रात को ही पार्षदों की बाड़ाबंदी शुरू कर दी गई. तख्ता पलट के लिए उसमें वर्तमान सभापति अशोक खन्ना के खिलाफ मीटिंग हुई. विरोध में मौजूद सभी पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव लाने पर सहमति जताई. अविश्वास प्रस्ताव ला रहे कांग्रेसी पार्षदों का कहना है कि उनके पास 35 से अधिक पार्षद मौजूद हैं, जबकि उन्हें अविश्वास प्रस्ताव के लिए मात्र 34 पार्षद ही चाहिए. इसके लिए शुक्रवार को जिला कलक्टर से मिलकर अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए प्रार्थना-पत्र और पार्षदों की सूची उन्हें सौंपी जाएगी.

ये भी पढ़ें- आखिर हो गया बंटवारा: गृह और वित्त सहित गहलोत ने रखे नौ मंत्रालय, पायलट को मिले पांच विभाग

सभापति ने कहा उन्हें कोई खतरा नहीं
जिला कलेक्टर की ओर से अविश्वास प्रस्ताव के लिए वर्तमान सभापति को बहुमत साबित करने का समय दिया जाएगा. बहुमत साबित नहीं होने पर सभापति बदल दिया जाएगा. अविश्वास प्रस्ताव को देखते हुए बीजपी के पार्षदों की भी गुरुवार को विधायक संजय शर्मा के नेतृत्व में बैठक आयोजित हुई. सभापति अशोक खन्ना का कहना है कि उनके पास बहुमत मौजूद है और उन्हें कोई खतरा नहीं है.

Tags: BJP, Congress, Rajasthan news, अलवर

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर