कुख्यात पपला को VVIP समझते थे पड़ोसी, सच्चाई जानकर फैली इलाके में दहशत

Rajendra Prasad Sharma | News18 Rajasthan
Updated: September 10, 2019, 6:52 PM IST
कुख्यात पपला को VVIP समझते थे पड़ोसी, सच्चाई जानकर फैली इलाके में दहशत
इसी मकान में ढाई माह से रह रहा था पपला, उसे कंपनी का अधिकारी समझते थे पड़ोसी

बहरोड़ पुलिस थाने पर फायरिंग कांड के आरोपी भगोड़ा विक्रम पपला को तिजारा कस्बे की श्रीराम कॉलोनी में रहने वाले उसके पड़ोसी उसे किसी कंपनी का अधिकारी समझते थे.

  • Share this:
अलवर. जिले के तिजारा कस्बे की श्रीराम कॉलोनी (Sri Ram Colony of Tijara ) के एक मकान (House) से पपला के कनेक्शन की कहानी सामने आने के बाद पड़ोसियों (Neighbors) में दहशत है. कॉलोनी के बाशिंदों को कतई आभास नहीं था इस मकान में जो वीवीआईपी रहते थे वे कुख्यात बदमाश पपला और उसके साथी गैंगस्टर (Gangster) थे. वे पपला को किसी कंपनी का अधिकारी समझते थे.

महंगी गाड़ियों में आने वाले और शान शौकत से किराए के मकान में रहने वालों के इस ठिकाने पर एटीएस की कार्रवाई के बाद जब पड़ोसियों को इसकी जानकारी मिली तो वे दंग रह गए. इस मकान के पड़ोस में रहने वाले लोगों को पता चला कि बहरोड़ पुलिस थाने पर फायरिंग कांड का आरोपी भगोड़ा विक्रम पपला और उसके साथी उनके पड़ोसी थे तो वे दहशत के शिकार हो गए. पड़ोसियों में अब पपला के नाम कि इतनी दहशत है कि वे लोग अब उसके बारे में कैमरे पर कुछ भी नहीं बोल रहे हैं. उनका कहना है वह पुलिस वालों का ये हाल कर सकता है तो हमारी क्या औकात है. हम आपको वैसे ही बता सकते हैं, कैमरे पर नहीं.

ढाई माह तक सरकारी कर्मी के मकान में रहा था पपला

पपला की तलाशी अभियान के दौरान रविवार को एसओजी की टीम व तिजारा थाना पुलिस ने जब श्रीराम कॉलोनी में सरकारी कर्मचारी के मकान का ताला तोड़कर तलाशी ली तो कॉलोनी के वाशिंदे हैरत में पड़ गए. जब उन्हें पता चला कि बहरोड़ थाना गोली कांड का आरोपी पपला गुर्जर इस कॉलोनी में किराए के मकान में रहता था तो वे लोग दंग रह गए. कॉलोनी वासियों ने बताया कि हमें नहीं मालूम था कि इस मकान में पपला रहता था. वह करीब ढाई माह इस मकान में रहा था.

पुलिस ने ताला तोड़कर पपला के ठिकाने की तलाशी ली.


वह किसी से कुछ कहता नहीं था और बातचीत भी नहीं करता था. कभी-कभी अच्छा मौसम रहने पर सुबह मकान की छत पर जरूर दिखाई दे जाता था. कभी-कभी रात को अन्य लोगों के साथ गाड़ी से आता था और कभी नहीं भी आता था. कभी स्कॉर्पियो से तो कभी दूसरी गाड़ी से आता था. पड़ोसियों से भी किसी प्रकार की कोई शिकायत नहीं करता था.

ये भी पढ़ें- 50 लाख रुपए का बीमा कराकर अधेड़ ने खुद ही कराई अपनी हत्या, दो गिरफ्तार : पुलिस
Loading...

कलेक्टर के नाम पर पीए मांगता है पटवारियों से पैसा, ऑडियो हुआ वायरल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अलवर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 10, 2019, 5:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...