कश्मीर में अलवर के ट्रक चालक और भरतपुर के परिचालक की आतंकियों ने की हत्या
Alwar News in Hindi

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के शोपियां (Shopian) में आतंकवादियों ने राजस्थान (Rajasthan) के एक और ट्रक ड्राइवर (Truck Driver) तथा परिचालक की गोली मारकर हत्या कर दी है. आतंकियों ने सेब लेकर लौट रहे ट्रकों पर हमला कर दिया जिसमें अलवर (Alwar) के रहने वाले ट्रक चालक मोहम्मद इलियास और भरतपुर (Bharatpur) के परिचालक जाहिद खान की मौत हो गई.

  • Share this:
अलवर. जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के शोपियां (Shopian) में आतंकवादियों ने राजस्थान (Rajasthan) के एक और ट्रक ड्राइवर (Truck Driver) तथा परिचालक की गोली मारकर हत्या कर दी है. आतंकियों ने सेब लेकर लौट रहे ट्रकों पर हमला कर दिया जिसमें अलवर (Alwar) के रहने वाले ट्रक चालक मोहम्मद इलियास और भरतपुर (Bharatpur) के परिचालक जाहिद खान की मौत हो गई. इलियास सदर थाना क्षेत्र के पहाड़ा गांव का और जाहिद खान भरतपुर के गोपालगढ़ इलाके के पापड़ा गांव का निवासी था. मोहम्मद इलियास और जाहिद 17 अक्टूबर को जयपुर (Jaipur) से आर्मी के लिए दूध लेकर कश्मीर गए थे. वापसी में सेब (Apple) लेकर लौटते समय आतंकियों ने उनको गोली मार दी.

इलियास के परिवारवालों में इस बात से रोष है कि प्रशासन ने अभी तक उनकी कोई सुध नहीं ली है. उनका कहना है कि इलियास आर्मी के लिए दूध लेकर कश्मीर गया था इसलिए आर्मी को उसे सुरक्षा उपलब्ध करवानी चाहिए थी.

alwar truck Drivers, Shopian of kashmir
इलियास के परिवारवालों में इस बात से रोष है कि उनकी किसी ने सुध नहीं ली है.




इलियास के परिवार में उसकी पत्नी के अलावा चार बच्चे हैं, जिनमें तीन बेटी और एक बेटा है. उसकी पत्नी मजदूरी कर घर चलाती है. आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण परिजनों ने मुआवजा देने की मांग की है. मृतक इलियास खान ट्रक मालिक जावेद निवासी उदाका (Udaka) का ट्रक चलाता था.
alwar truck Drivers, Shopian of kashmir
परिजनों ने मुआवजा देने की मांग की है.


 

10 दिन पहले भरतपुर के शरीफ खान की हुई थी हत्या

दस दिन पहले ही भरतपुर के ट्रक ड्राइवर (Truck Driver) शरीफ खान (Shrief Khan) की भी शोपियां (Shopian) में आतंकवादियों ने हत्या कर दी थी. शरीफ खान भरतपुर जिले (Bharatpur District) के पहाड़ी थाना इलाके के उभाका गांव का रहने वाला था और उसका खलासी यानी सहायक इकराम हरियाणा का रहने वाला है. आतंकवादियों ने गोली मारकर शरीफ की हत्या कर दी थी जबकि इकराम वहां से जान बचाकर भागने में सफल रहा था.

ये भी पढ़ें- 

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज