अलवरः तीन महीने से खराब है राजीव गांधी अस्पताल की वेंटिलेटर मशीन

अलवर जिले के सबसे बड़े राजीव गांधी सामान्य चिकित्सालय में मरीजों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है. सामान्य चिकित्सालय में इमरजेंसी में आने वाले मरीजों के लिए कोई भी सुविधा नहीं है.

Rajendra Prasad Sharma | ETV Rajasthan
Updated: January 14, 2018, 1:24 PM IST
अलवरः तीन महीने से खराब है राजीव गांधी अस्पताल की वेंटिलेटर मशीन
अस्पताल में इमरजेंसी मरीजों के लिए भी नहीं हैं सुविधाएं.
Rajendra Prasad Sharma | ETV Rajasthan
Updated: January 14, 2018, 1:24 PM IST
अलवर जिले के सबसे बड़े राजीव गांधी सामान्य अस्पताल में मरीजों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है. सामान्य अस्पताल के आईसीयू में वेंटिलेटर मशीन पर ऑक्सीजन की सुविधा भी नहीं है. जिसके कारण मरीज की मौत भी हो सकती है. इसके साथ ही सामान्य अस्पताल में इमरजेंसी में आने वाले मरीजों के लिए कोई भी सुविधा नहीं है.

पिछले तीन महीने से वेंटिलेटर ऑक्सीजन की मशीन खराब है. वेंटिलेटर पर मरीजों को ऑक्सीजन नहीं मिल पाती है. जिसके कारण उनकी मौत भी हो सकती है, लेकिन सामान्य अस्पताल के प्रशासन का इस ओर कोई ध्यान नहीं है.

सामान्य अस्पताल में प्रशासन सुस्त नजर आ रहा है. अस्पताल में  वेंटिलेटर आवश्यक मरीजों को सर्जिकल आईसीयू वार्ड में भर्ती करने की तैयारी की जा रही है. जिससे कि आईसीयू वार्ड में भर्ती अन्य मरीजों को संक्रमण होने का खतरा है.

प्रभारी डॉ. परविंदर सिंह ने बताया कि लगता है कि वेंटिलेटर की ऑक्सीजन पाइप लीक है, जिसके कारण ऑक्सीजन कम मिल पा रही है. इसके बारे में अभी जानकारी मिली है. इसे जल्द ही ठीक करवा लिया जाएगा.

उन्होंने बताया कि अगर कोई ऐसा मरीज आता है, जिसको वेंटिलेटर की आवश्यकता है तो उनके लिए अस्पताल में सुविधा उपलब्ध है. डॉ. परविंदर का कहना है कि यह अभी खराब हुई है, लेकिन अस्पताल में कार्यरत कर्मचारियों ने बताया कि यह पिछले तीन महीनों से खराब पड़ी है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर